scriptडॉग बाइट के बढ़ते मामलों पर प्रशासन का नया एक्शन, अब स्ट्रीट डॉग्स की होगी नसबंदी | Administration's new action on increasing cases of dog bites, now street dogs will be sterilized | Patrika News
बांसवाड़ा

डॉग बाइट के बढ़ते मामलों पर प्रशासन का नया एक्शन, अब स्ट्रीट डॉग्स की होगी नसबंदी

लावारिस मवेशियों पर अंकुश लगाने के पशुपालन विभाग ने नगर परिषद को पत्र लिखकर सुझाव दिया कि पकड़कर गोशाला भेजे गए मवेशियों को छुड़ाने के लिए पहुंचने वाले मालिकों पर शुल्कदंड बढ़ाया जाए।

बांसवाड़ाJun 10, 2024 / 02:11 pm

Akshita Deora

बांसवाड़ा शहर में वाहनचालकों व राहगीरों पर हो रहे स्ट्रीट डॉग्स के हमलों में कमी लाने के लिए जल्द ही कोशिश शुरू होगी। बढ़े हमलों और तादाद को देखते हुए जिला प्रशासन ने उनकी नसबंदी कराने की तैयारी की है। लावारिस घूमते मवेशियों को गोशाला भेजा जाएगा। पशु छुड़ाने के लिए पहुंचने वाले पशु मालिक पर लागू दण्ड की राशि भी प्रतिदिन बढ़ाकर ली जाएगी। ये निर्देश पशु कू्ररता निवारण समिति की बैठक में जिला कलक्टर डॉ. इंद्रजीत सिंह यादव ने दिए। कुत्तों की नसबंदी के लिए पशु जन्म नियंत्रण नियम-2023 के तहत नगर परिषद कुत्तों को पकडक़र जिला पशु चिकित्सालय पहुंचाएगी, जहां पशुपालन विभाग नसबंदी करेगा। फिर उन्हें छोड़ दिया जाएगा। यह वैकल्पिक व्यवस्था है। वजह यह कि अभी यहां जीव जंतु कल्याण बोर्ड की ओर से एबीसी केन्द्र संचालित नहीं है। विभागीय संयुक्त निदेशक डॉ. विजय सिंह भाटी ने इस तरह की कार्रवाई के लिए पशु जन्म नियंत्रण अधिनियम-2023 की ओर से निरीक्षण दल गठन करने संबंधी जानकारी दी। बताया कि मान्यता प्राप्त संस्था से एबीसी केन्द्र संचालन के लिए आवेदन के बाद दल निरीक्षण कर संचालन स्वीकृति दे सकेगा। अस्थाई व्यवस्था के तौर पर श्वानों की नसबंदी के लिए बहुउद्देशीय पशु चिकित्सालय को पाबंद किया है।
यह भी पढ़ें

राजस्थान के कई जिलों से ज्यादा राजस्व देता है यह अकेला गांव, सालाना भरते हैं इतने करोड़ का टैक्स

मवेशियों को खुला छोड़ने पर लगेगा जुर्माना

लावारिस मवेशियों पर अंकुश लगाने के पशुपालन विभाग ने नगर परिषद को पत्र लिखकर सुझाव दिया कि पकड़कर गोशाला भेजे गए मवेशियों को छुड़ाने के लिए पहुंचने वाले मालिकों पर शुल्कदंड बढ़ाया जाए। अभी तक पशु मालिकों से निर्धारित शुल्क ही लिया जाता है, भले ही पशु गोशाला में एक दिन रहे या इससे अधिक दिन। विभाग ने परिषद को हरेक दिन के हिसाब से शुल्क बढ़ाने पर जोर दिया।

Hindi News/ Banswara / डॉग बाइट के बढ़ते मामलों पर प्रशासन का नया एक्शन, अब स्ट्रीट डॉग्स की होगी नसबंदी

ट्रेंडिंग वीडियो