देखिए...वीडियो...बांसवाड़ा में माही बांध के सभी सोलह गेट खोले, धवल ज्वार देखने उमडऩे लगे लोग

deendayal sharma

Updated: 14 Aug 2019, 08:17:02 PM (IST)

Banswara, Banswara, Rajasthan, India

बांसवाड़ा. जिले में स्वाधीनता दिवस से ठीक एक दिन पहले बुधवार शाम को वागड़ के लोगों की मुराद पूरी हो गई, जबउदयपुर संभाग के सबसे बड़े माही बांध के सभी 16 गेट खुलने पर माही नदी में उठा धवल ज्वार देखने को मिला। इसे निहारने लोगों को लंबा इंतजार करना पड़ा था। बांध में जल आवक बने रहने पर बुधवार को 16 गेट खोले गए। अभी बांध में 45000 क्यूसेक पानी की आवक बनी हुई है और उसी अनुपात में पानी छोड़ा ।

#Banswara_News : शहादत के तीन साल बाद भी नहीं बना शहीद हर्षित भदौरिया का स्मारक, सांसद से भूमि आवंटन की मांग

इससे पहले दोपहर करीब 2 बजे माही डेम पर कलक्टर आशीष गुप्ता, पुलिस अधीक्षक केसरसिंह शेखावत सहित माही के अधिकारियों ने यहां पूजा-अर्चना की। इसके बाद कलक्टर ने बटन दबाकर विधिवत रूप से दो गेट खोले। शाम तक क्रमवार गेट खोलने का सिलसिला चला और तय अंतराल में चार, 8, 10, 12 व 16 तक पहुंचा। इधर, डेम के गेट खुलने की जानकारी मिलते ही लोग भी नजारा देखने पहुंचे। शाम तक 16 गेट से निकलते पानी से धवल ज्वार का नजारा देखते ही बनता था। गौरतलब है कि माही बांध की कुल भराव क्षमता 281.50 मीटर हैं। बुधवार को 281.30 मीटर तक पहुंचने पर गेट खोले गए। अभी जलस्तर 281.25 मीटर बनाए रखते हुए पानी छोड़ा जा रहा है।
इस बीच जिले में बुधवार को कहीं हल्की तो कहीं मूसलाधार वर्षा हुई। बाढ़ नियंत्रण कक्ष के अनुसार जिले में सुबह आठ बजे तक बांसवाड़ा में 9, केसरपुरा में 5, दानपुर प जगपुरा में 3-3 , घाटोल व भूंगड़ा में 7-7 और जगपुरा में दो मिमी बारिश दर्ज की गई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned