बांसवाड़ा : बाबा रामदेव के स्वागत में बिछाए पलक-पावड़े, योग शिविर में शहरवासी उमड़े

बांसवाड़ा : बाबा रामदेव के स्वागत में बिछाए पलक-पावड़े, योग शिविर में शहरवासी उमड़े

Ashish Bajpai | Publish: Apr, 24 2018 12:33:34 PM (IST) Banswara, Rajasthan, India

समय सुबह 5 से 7.30 बजे, 25 को महिलाओं के लिए विशेष शिविर

बांसवाड़ा. योग गुरु बाबा रामदेव का सोमवार को लोढ़ी काशी में आगमन हो गया। सूर्योदय के साथ ही बाबा रामदेव का पदापर्ण हुआ तो वागड़वासियों ने उनके स्वागत- अभिनंदन में पलक पावड़े बिछा दिए। इसके बाद पूरा दिन वे लोगों से मिले जुले और सेनावासा में बाल संगम कार्यक्रम में शरीक हुए। बाबा रामदेव मंगलवार से तीन दिन तक खेल स्टेडियम पर योग की गंगा बहाएंगे, जिसके जरिये हजारों वागड़वासी गोता लगाकर निरोगी काया का सुख प्राप्त करने की कोशिश करेंगे। शिविर सुबह 5 से 7:30 बजे तक चलेगा। इस दौरान बाबा रामदेव विभिन्न योग और प्राणायाम के माध्यम से साध्य एवं असाध्य रोगों के उपचार एवं बचने के उपायों के बारे में जानकारी देंगे। शिविर की तैयारियों को सोमवार को अंतिम रूप दे दिया गया। 25 अप्रेल को शाम 4 से 6 बजे तक महिलाओं के लिए विशेष आरोग्यता शिविर का आयोजन किया जाएगा।

इन्होंने किया स्वागत
बाबा रामदेव के बांसवाड़ा पहुंचने पर आयोजन समिति के संरक्षक जगमालसिंह, अध्यक्ष निमेश मेहता, उपाध्यक्ष हरीश कलाल, पार्थ दामा, महामंत्री मनोज शाह, सदस्य लक्ष्मीकांत त्रिवेदी, धरणीधर पंड्या, जयप्रकाश् पंड्या, अशोक जैन, अंदेश जैन, रमेश पंचोली, कांतिलाल पटेल, राजेन्द्र मेहर, सुनील मेहता, सुनील दोसी, डा आर के मालोत, डा मुनव्वर हुसैन, मुज्जफर अली, डा, दीपक द्विवेदी, आर के अय्यर, हर्ष कोठारी एवं शैलेन्द्र भट्ट ने स्वागत किया।

साईं के दर्शन, अनुयायियों को आशीर्वाद
योग ऋषि स्वामी रामदेव ने सोमवार को रतलाम मार्ग स्थित साईं मंदिर में दर्शन किए। पिरामिड का अवलोकन कर अनुयायियों को आशीर्वाद भी दिया। बाबा रामदेव सुबह साढ़े 11 बजे संत निवास से रवाना होकर साईं मंदिर पहुंचे। उन्होंने भगवान गणपति की प्रतिमा और फिर साईं बाबा के दर्शन कर माल्यार्पण किया। बाबा रामदेव ने मंदिर परिसर में बने पिरामिड का अवलोकन किया। यहां साईं मंदिर ट्रस्ट अध्यक्ष हर्ष कोठारी, गोविंद गुप्ता, नगेंद्र दोसी, धरणीधर पण्ड्या, जयनारायण मेहता, ताराचंद कोठारी, कांतिलाल पटेल, सुनील दोसी, निर्मला चेलावत, रत्ना अय्यर, लीना दोसी, अंजू कोठारी आदि ने उनका स्वागत किया। संचालन दीपक द्विवेदी ने किया।

योग की महिमा अनुपम
यहां उन्होंने कहा कि भारत की सनातन संस्कृति में योग की अनुपम महिमा है। योग हमारे शरीर से विकार दूर करता है और श्रेष्ठ जीवन जीने की राह दिखलाता है। उन्होंने पिरामिड की विशेषता का उल्लेख करते हुए कहा कि पिरामिड में ऊर्जा का विशेष फ्लो होता है। साधक प्राणायाम, ध्यान , साधना आदि करें और मोह को छोड़ें। मोह छोडऩे से अध्यात्मिक शक्तियों के साथ संबंध जुड़ जाता है। जीवन में अध्यात्मिकता को अपनाएं।

ऊं का उच्चारण
संत निवास से साईं मंदिर जाते समय रास्ते में बाबा रामदेव का अंकुर स्कूल के नन्हें बच्चों ने गुलाब के फूल देकर अभिनंदन किया। इस दौरान उन्होंने बच्चों से ऊं और हरि ऊं का उच्चारण कराया। बच्चों ने भी गायत्री मंत्र का सस्वर उच्चारण किया। संस्थाप्रधान डा. रक्षा सराफ, सचिव शैलेन्द्र सराफ, प्रसंग सराफ सहित अन्य ने उनका स्वागत किया। वहीं उन्होंने मंदिर परिसर में टायनी टॉट्स विद्यालय के विद्यार्थियों के साथ गु्रप फोटो कराकर आशीर्वाद दिया।

स्वागत किया
नारायण सेवा संस्थान, उदयपुर की बांसवाड़ा शाखा के प्रतिनिधियों ने संत निवास पर बाबा रामदेव का साफा पहनाकर और अश्व सवार महाराणा प्रताप की प्रतिमा का स्मृति चिह्न सौंपा। इस मौके पर उदयपुर से आए निदेशक रोहित शर्मा, बांसवाड़ा शाखा अध्यक्ष प्रेमकुमार माटा, मुकेश त्रिपाठी, रवि माटा, मुकेश वैष्णव, राधाकृष्ण जोशी आदि मौजूद रहे। चौबीसा ब्राह्मण समाज की ओर से शांतिलाल चौबीसा और कमलेशचंद्र चौबीसा ने अभिनंदन किया।

भरोसे के लिए अभिनेता की जरूरत नहीं
साईं मंदिर ट्रस्ट अध्यक्ष हर्ष कोठारी की जिज्ञासा को शांत करते हुए बाबा रामदेव ने कहा कि देश के जो बड़े उद्योगपति है, उनके इंडस्ट्रीयल प्रोजेक्ट हैं और पीढिय़ों से उद्योगपति हैं। पतंजलि पहला ऐसा ब्रांड है, जो विदेशी कंपनियों को टक्कर ही नहीं दे रहा, बल्कि विदेशी कंपनियों को पीछे छोड़ दिया है। यह भरोसा है और भरोसे के प्रचार-प्रसार के लिए किसी अभिनेता या अभिनेत्री की आवश्यकता नहीं होती है। इसके बाद वे बाईतालाब के समीप एक फार्महाउस पर पहुंचे, जहां लक्ष्मीकांत त्रिवेदी, देवेश त्रिवेदी, जैनेन्द्र त्रिवेदी, मनीष त्रिवेदी सहित अन्य ने स्वागत किया। महिलाओं ने धार्मिक भजनों से बाबा रामदेव की अगवानी की।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned