#Jugaad : देसी घाणी को चलाने का यह जबरदस्त जुगाड़ देखकर हर कोई रह गया दंग, जुगाडू कारीगर का शानदार आइडिया, देखें वीडियो

jugaad examples, jugaad idea, jugaad in india, best jugaad, jugaad news, jugaad vehicle : सोचने को मजबूर कर देगा कारीगर का यह जुगाड़, तिल की घाणी चलाने के लिए किया बाइक का इस्तेमाल

By: Varun Bhatt

Published: 03 Dec 2019, 01:11 PM IST

Banswara, Banswara, Rajasthan, India

संजय सिंह कुशवाह/बांसवाड़ा. बड़े-बुजुर्ग कहते हैं कि जमाने के साथ बदलो तो आगे की राह खुलती चली जाएगी। इसमें आदिवासी अंचल भी पीछे नहीं है। पहले सामान्य रूप से बैल का उपयोग कर कोल्हू चलाया जाता था, लेकिन अब देशी घाणी को चलाने में जुगाड़ तकनीक का उपयोग होने लगा है। इन दिनों सर्दी आते ही खान-पान बदला है और विशेष रूप से गर्म तासीर की खाद्य सामग्री का निर्माण और विक्रय होने लगा है। बांसवाड़ा-उदयपुर मार्ग पर डांगपाडा गांव के समीप इन दिनों भीलवाड़ा से तिल कुट्टा बनाने वाले कारीगर का परिवार आया है। तिल की घाणी को चलाने के लिए उसने ऐसा जुगाड़ लगाया है कि लोग कुछ देर ठहर जाते हैं। कारीगर ने तिल और गुड़ का मिश्रण तैयार करने के लिए कोल्हू में एक मोटरसाइकिल को ही लगा दिया है। मोटरसाइकिल चालू कर और पहले गियर में डालने के बाद एक्सीलेटर को बांध दिया है। मोटरसाइकिल चारों ओर घूमती है और कोल्हू चलने के साथ ही तिल-गुड़ का मिश्रण भी तैयार हो जाता है। मुख्य मार्ग से गुजरने वाले लोग भी कौतुहलवश कुछ देर ठहरते हैं और जुगाड़ को देख इसकी सराहना करते हैं।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned