बांसवाड़ा : विद्युत निगम के अफसरों का समन्वय बिगड़ा, घंटों तक बिजली गुल तो उखड़े लोग, जीएसएस पर जताया आक्रोश

विद्युत वितरण निगम के अभियंताओं में आपसी समन्वय का खमियाजा गुरुवार को शहरवासियों को भुगतना पड़ा। लोधा स्थित 220 केवी जीएसएस में फॉल्ट आने पर एक-दूसरे पर जिम्मेदारी डालने से दिन में करीब छह घंटे तक शहर में बिजली आपूर्ति नहीं हुई। फिर शाम को भी करीब सवा तीन घंटे तक बिजली गुल रही, तो रात होने तक उखड़े उपभोक्ताओं ने कुशलबाग मैदान के सामने स्थित जीएसएस पहुंचकर रोष व्यक्त किया।

By: deendayal sharma

Updated: 05 Sep 2019, 09:42 PM IST

बांसवाड़ा. विद्युत वितरण निगम के अभियंताओं में आपसी समन्वय का खमियाजा गुरुवार को शहरवासियों को भुगतना पड़ा। लोधा स्थित 220 केवी जीएसएस में फॉल्ट आने पर एक-दूसरे पर जिम्मेदारी डालने से दिन में करीब छह घंटे तक शहर में बिजली आपूर्ति नहीं हुई। फिर शाम को भी करीब सवा तीन घंटे तक बिजली गुल रही, तो रात होने तक उखड़े उपभोक्ताओं ने कुशलबाग मैदान के सामने स्थित जीएसएस पहुंचकर रोष व्यक्त किया। इसके बाद भी बिजली की आंख-मिचौनी बनी रही। करीब नौ बजे कुछ इलाकों में आपूर्ति बहाल हुई।

स्कूल से घर लौट रही 9वीं कक्षा की छात्रा से बलात्कार कर आरोपी फरार, पुलिस ने तीन जनों के खिलाफ दर्ज किया मामला
निगम सूत्रों के अनुसार पहले ठीकरिया जीएसएस में तकनीकी फॉल्ट आने से संबंधित क्षेत्रों में आपूर्ति बाधित हुई। इसके बाद लोधा जीएसएस में ब्रेकर में समस्या आई। इसके बाद शहरी और ग्रामीण जीएसएस के अभियंताओं के आपसी समन्वय के अभाव में लोगों को घंटों तक बिना बिजली रहना पड़ा। शाम करीब पांच बजे लोधा स्थित 220 केवी जीएसएस में 132/33 केवी की लाइनों से जुड़ी मैन बस के जम्पर उड़ गए। इससे एक बार फिर बिजली आपूर्ति गुल हो गई।

नहीं उठाए कॉल, परेशान होते रहे लोग
करीब पांच बजे बिजली गुल होने के बाद काफी देर तक बिजली बहाल नहीं हुई तो लोगों की परेशानी बढ़ गई। लोगों ने निगम के अभियंताओं को कॉल करना शुरू किया, लेकिन कई अभियंताओं के मोबाइल स्वीच ऑफ पाए तो कई ने कॉल रिसीव करने की जहमत नहीं उठाई। कई लोगों ने कुशलबाग स्थित जीएसएस पहुंचकर रोष व्यक्त किया।

बांसवाड़ा : दिनदहाड़े कपड़े की दुकान में घुसे 15-20 नकाबपोशों ने व्यापारी पर किया हमला, मारपीट कर हो गए फरार, मचा बवाल

झेलनी पड़ी परेशानी
घंटों तक बिजली आपूर्ति नहीं होने से लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी। कई घरों में इन्वर्टर बंद हो गए तो पेयजल आपूर्ति की समस्या भी सामने आई। शाम के समय बिजली बंद होने से महिलाओं को भोजन आदि बनाने के लिए आपूर्ति का इंतजार करना पड़ा। व्यापारियों को भी परेशानियों से रूबरू होना पड़ा। जनरल स्टोर्स में फ्रीज में रखा दूध खराब हो गया तो आइसक्रीम तक पिघल गई। बिजली उपकरण की दुकान संचालकों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

Show More
deendayal sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned