बांसवाड़ा : जंगल की आग ने धधकाया मकान, घर से भाग बचाई जान

घाटोल क्षेत्र के जगपुरा जंगल का मामला, वनक्षेत्र में दिन से अलग-अलग स्थानों पर लगी है आग

 

By: Ashish vajpayee

Published: 09 Apr 2020, 02:03 AM IST

घाटोल. जगपुरा पंचायत के उमरझला जंगल में बीते दो दिन से धधक रही आग से मंगलवार देर रात एक ग्रामीण का मकान भी धधक उठा। मकान में लगी आग को देख परिजनों ने जैसे-तैसे जान बचाई। दूसरी ओर, जंगल में दो दिन से धधक रही आग ने सैकड़ों की संख्या में पेड़ नष्ट कर दिए। जानकारी के अनुसार वन में सोमवार से अलग-अलग स्थानों पर आग लग रही है। जिसे वन विभाग और ग्रामीणों की मदद बुझाने का प्रयास किया जा रहा है। लेकिन दुर्गम हालात होने के कारण उक्त स्थानों पर फायर बिग्रेड के पहुंचने में दिक्कत आ रही है। दो दिनो में क्षेत्रीय वनअधिकारी धनश्यामसिंह के निर्देशन में वनपाल विक्रमसिंह, लक्ष्मण कुमार सहित टीम जंगल के विभिन्न हिस्सों में लोगों की की मदद से आग पर काबू पाने का प्रयास कर रही है। संसाधनों के अभाव में आग पर मिट्टी डालकर और पत्तों की सहायता से बुझाने का प्रयास किया जा रहा है। जानकारी के अनुसार उमरझला वनक्षेत्र 2200 हेक्टेयर में फैला है। क्षेत्र का तकरीबन 30 हेक्टेयर इलाका आग की चपेट में आ चुका है। विक्रमसिंह और लक्ष्मण कटारा ने बताया कि वे डटे हुए हैं। दो दिन से जंगल के समीप ही रात गुजार रहे हैं। हरे पत्तो से आग पर काबू के सिवाय कोई सहारा नहीं है।

बोला ग्रामीण - भगाते नहीं तो आ जाते चपेट में

पीडि़त प्रभुलाल पुत्र हुरमा ने बताया कि उसका तो सब बर्बाद हो गया। रात में आग एकदम से फैल गई। लेकिन आग इतनी तेज थी कि जान बचाना मुनासिब समझा। इसके बाद वो और परिवार के अन्य सदस्य घर छोड़ दिया। नींद नहंी खुली होती जो सभी लेाग आग की चपेट में आ जाते। उसने बताया कि घर में रखा अनाज, बिस्तर सहित पूरा सामान जल गया। बुधवार सुबह पटवारी अनिल कुमार मेघवाल मौके पर पहुंचे और जानकारी जुटाई।

Ashish vajpayee
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned