प्रभावी पुलिसिंग में बांसवाड़ा प्रदेश में दूसरे नंबर पर, टॉप 20 में बांसवाड़ा के 4 सर्किल शामिल

Banswara Police News : दिसंबर के पीएमएस से मूल्यांकन के नतीजों में स्थिति बेहतर

By: mradul Kumar purohit

Published: 18 Feb 2020, 01:11 PM IST

बांसवाड़ा. प्रदेश में प्रभावी पुलिसिंग के मामले में दिसंबर महीने में कोटा रुरल के बाद बांसवाड़ा जिला दूसरे नंबर पर रहा है। यह उपलब्धि पुलिस विभाग की ओर से तय मापदंडों के अनुसार बनाए परर्फोमेंस मेजरमेंट सिस्टम (पीएमएस) के नतीजों से सामने आए हैं। विभागीय सूत्रों के अनुसार दर्ज हुए आपराधिक मामलों में कार्रवाई और कानून व्यवस्था की दृष्टि से उठाए कदमों के फलस्वरूप सामने आए परिणामों को देखते हुए अंकों के हिसाब से पीएमएस के जरिए हर महीने मूल्यांकन किया जाता है। इसमें दिसंबर में राज्य के तमाम जिलों की पीएमएस में कोटा रुरल 98 अंकों के साथ नम्बर वन पर रहा है, जिसके एसपी राजन दुष्यंत हैं। इसके बाद बांसवाड़ा एसपी केसरसिंह शेखावत के नेतृत्व में बांसवाड़ा जिला 90.10 अंकों के साथ दूसरे पायदान पर है। इसके पीछे डूंगरपुर जिला है, जिसने एसपी जय यादव के नेतृत्व में 72.60 अंक प्राप्त किए हैं। इनके अलावा चौथे और पांचवें स्थान पर क्रमश: बूंदी और राजसमंद जिले रहे हैं। इसके अलावा पीएमएस से वृत्त स्तर टॉप 20 के मूल्यांकन में भी कोटा ग्रामीण से रामगंज मंडी वृत्त अव्वल रहा, जबकि इसके बाद बांसवाड़ा जिले का नेतृत्वविहीन घाटोल वृत्त है। तीसरे दर्जे पर बागीदौरा सीओ गोपीचंद मीणा रहे हैं। फिर प्रतापगढ़ के बाद बांसवाड़ा के कुशलगढ़ सीओ पांचवें और बांसवाड़ा सीओ छठे नंबर पर हैं। इसके अलावा थानों के कामकाज मूल्यांकन पर गौर करें तो मालूम होता है कि टॉप 20 में छोटे थानों का प्रदर्शन बेहतर है। इनमें चुरु जिले का डूडवा खारा और कोटा ग्रामीण से चेचट थाना क्रमश: पहले और दूसरे स्थान पर रहा, जबकि तीसरे स्थान पर बांसवाड़ा का भूंगड़ा थाना रहा है। सूची में बांसवाड़ा जिले से सल्लोपाट और आंबापुरा थानों ने क्रमश: सातवां और ग्यारहवां स्थान प्राप्त किया है।

Show More
mradul Kumar purohit Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned