बांसवाड़ा.एमबीसी के बेड़े में संसाधनों का विस्तार, 17 नई गाडिय़ां आईं

बांसवाड़ा. मेवाड़ भील कोर (एमबीसी) की नई बांसवाड़ा बटालियन अपना स्वरूप लेने लगी है। यहां एमबीसी के बेड़े में संसाधनों के विस्तार के तहत यहां दो दिन में 17 नई गाडिय़ां पहुंची हैं। इनके चालकों के प्रशिक्षण का सिलसिला पुलिस मुख्यालय से चल रहा है। चालक आने पर इनका छह कंपनियों को आवंटन होगा।

बांसवाड़ा. मेवाड़ भील कोर (एमबीसी) की नई बांसवाड़ा बटालियन अपना स्वरूप लेने लगी है। यहां एमबीसी के बेड़े में संसाधनों के विस्तार के तहत यहां दो दिन में 17 नई गाडिय़ां पहुंची हैं। इनके चालकों के प्रशिक्षण का सिलसिला पुलिस मुख्यालय से चल रहा है। चालक आने पर इनका छह कंपनियों को आवंटन होगा।

एमबीसी कमांडेंट व बांसवाड़ा एसपी केसरसिंह ने बताया कि नई बटालियन की बांसवाड़ा, उदयपुर, चित्तौडगढ़़, राजसमंद और सिरोही की कुल छह कंपनियों के लिए 17 बसें, पांच ट्रक और एक एम्बुलेंस रिजर्व पुलिस लाइन में आ चुकी हैं। एमबीसी में प्रशिक्षित चालकों की कमी है। चालकों का पीएचक्यू से प्रशिक्षण का कार्यक्रम चल रहा है। इसके उपरांत चालक मिलते ही इन गाडिय़ों का कंपनियों को आवंटन किया जाएगा। इधर, एमबीसी के निरीक्षक आरआर राजपुरोहित ने बताया कि एमबीसी भवन के लिए माही डेम के पास आवंटित भूमि पर जवान लगाए हुए हैं। वहां अब जल्द ही भवन निर्माण शुरू करवाया जाएगा। एमबीसी में अभी 545 जवान हैं। सी और डी कंपनी बांसवाड़ा में है। इनमें से कुछ माही डेम एमबीसी की आवंटित भूमि की सुरक्षा में लगाए गए हैं। अभी एमबीसी बेड़े में संसाधन अभी 11 और वाहन आने हैं। इनमें पांच बाइक, दो बस, एक स्कार्पियो और तीन कब शामिल हैं।

Dindyal Sharma Correspondent
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned