बांसवाड़ा पुलिस ने किया चोरों का पर्दाफाश, दो नाबालिग सहित पांच को धरा, 17 बाइक बरामद, 18 वारदातें कबूलीं

बांसवाड़ा पुलिस ने किया चोरों का पर्दाफाश, दो नाबालिग सहित पांच को धरा, 17 बाइक बरामद, 18 वारदातें कबूलीं

Ashish vajpayee | Publish: Apr, 17 2018 04:37:05 PM (IST) Banswara, Rajasthan, India

शहर के हर क्षेत्र में की चोरी

बांसवाड़ा. पुलिस ने सोमवार को बाइक चोर गिरोह का भंडाफोड़ किया है। गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है और दो नाबालिगों को डिटेन किया गया है। इनसे जिले के विभिन्न स्थानों से चुराई गई सत्रह बाइक बरामद की हैं। आरोपितों ने अब तक 18 वारदातें करना कबूल कर लिया है और पुलिस का मानना है कि अभी कुछ और वारदातें खुलेंगी। पुलिस अधीक्षक कालूराम रावत ने बताया कि शहर में वाहन चोरियों की बढ़ती वारदातों को रोकने एवं पुरानी वारदातों का खुलासा करने के लिए गत दिनों डिप्टी वीराराम चौधरी के निर्देशन में कोतवाली थाना प्रभारी शैतान सिंह नाथावत के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया था। इस टीम की ओर से पूर्व में वाहन चोरी के अपराधियों को सूचीबद्ध किया गया। साथ ही जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्रों में मुखबिर लगाए गए। इसी दरम्यान कॉलेज रोड सुभाष नगर निवासी किशोर कुमार डबगर पुत्र माणकलाल एवं एमजी चिकित्सालय से हरीश ललवानी की मोटरसाइकिल चोरी होने की रिपोर्ट थाने पर प्राप्त हुई।

नाकेबंदी में दो को दबोचा, पूछताछ में खुला गिरोह
सीआई ने बताया कि पुलिस टीम को सूचना मिली कि दो शख्स चोरी की मोटरसाईकिल को लेकर शहर की तरफ आ रहे हैं। इस पर पुलिस टीम ने शहर नाकाबंदी की। इसी दौरान धामनिया निवासी कालूलाल पुत्र हिमजी मकवाना, भूंगड़ा थाना इलाके के पनियाला निवासी बहादुर पुत्र मांगीलाल डामोर मोटरसाईकिल से आ रहे थे, जिन्होंने नाकाबंदी देखकर बाइक छोडकऱ भागने का प्रयास किया। इस पर पुलिस टीम ने घेराबंदी कर उक्त आरोपियों को पकड़ा। इन दोनों से जब पुलिस ने बाइक के कागजों के बारे में पूछा तो आरोपितों ने किसी भी बात का स्पष्ट जवाब नहीं दिया। इसके बाद पुलिस ने जब दोनों से सख्ती से पूछताछ की तो दोनों ने बताया कि उक्त मोटरसाइकिल करीब डेढ़ महिने पहले सुभाष नगर से चुराई थी। आरोपियों से अपने साथी भूंगड़ा के पनियालाल निवासी किशन पुत्र कचरु व दो अन्य बालकों के नाम बताए। यह भी बताया कि सभी मिलकर जिला बांसवाडा में विभिन्न जगहों से कई मोटरसाइकिलें चुराई है। इस पर तीनों को भी दबोचा।

केनाल में फेंके बाइकों के पाट्र्स
एसपी ने बताया कि आरोपित चोरियों की वारदातों के साथ नकबजनी में भी लिप्त हैं। आरोपियों में कालू पुत्र हिमजी तथा किशन पुत्र कचरु के खिलाफ चोरी व नकबजनी में चालान भी पेश हो चुके हैं। आरोपितों ने कई मोटरसाइकिले तोडकऱ उनमें से बहुमूल्य पाट्र्स निकालकर बेच दिए व गाडिय़ों के अन्य पार्टस भापोर, पनियाला व नया गॉव केनाल में डाल दिए। पुलिस ने केनाल से पाटर््स बरामद किए है। एसपी ने बताया कि आरोपितों से मास्टर की चाबी बरामद हुई है, जिसके सहारे से ये आसानी से मोटरसाइकिलें चुरा लेते हंै। चोरी करने के बाद मोटर साइकिलों को शौक के रूप में चलाते और जब पैसों की जरूरत होती है तब पाट्र्स निकालकर बेच देते।

ये वारदातें कबूलीं
कॉलेज रोड स्थित सुभाष नगर से किशोर कुमार पुत्र माणकलाल का वाहन, मंदारेश्वर रोड से इमरान अली पुत्र हैदर अली, बागीदौरा छींच से मधुसूदन शाह पुत्र गैबीलाल, सुभाष नगर से पार्षद एवं ओबीसी मोर्चा के अध्यक्ष लाभचंद पटेल पुत्र गंगाराम की, प्रताप सर्किल निवासी दिग्विजय सिंह पुत्र प्रतापसिंह, सदर थाना इलाके के सांगरीपाड़ा निवासी सुनील मईड़ा पुत्र कान्तिलाल मईड़ा, बड़ोदिया निवासी निकुंज जैन पुत्र सतीश जैन, सूरजपोल निवासी भगवतीलाल पुत्र मणिलांल जहानपुरा निवासी विकास निनामा पुत्र गोर्धन निनामा, ठीकरिया मारुति नगर निवासी शैलगिरी गोस्वामी पुत्र देवीगिरी, बांसवाड़ा मोहन कॉलोनी निवासी राजीव रंजन पुत्र रंगनाथ शर्मा, वृन्दावन नगर निवासी अखिलेश पुत्र सुंदर लाल पटेल, गढ़ी बोदिया निवासी राजेश पुत्र रतन पाटीदार, दाहोद रोड स्थित नाथेलाव कॉलोनी निवासी महिपालसिंह पुत्र झुझार सिंह सिसोदिया, हीराबाग कॉलोनी निवासी रोहित राणा पुत्र दीपेन्द्र कुमार राणा, आनंदपुरी चैथमाल निवासी धनपाल पुत्र सुरपाल थौरी, बांसवाड़ा भापोर निवासी कान्तिलाल पुत्र नानीया के वाहन चोरी करने की वारदात कबूली है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned