बांसवाड़ा : साजिशकर्ता सिराज के ममेरे भाई के घर तडक़े पुलिस की घेराबंदी और तलाशी

एक जना गिरफ्तार, चार थानों के जाप्ते के साथ एमबीसी के जाप्ते ने दी दबिशें

By: Ashish vajpayee

Published: 14 Nov 2017, 12:50 PM IST

बांसवाड़ा. सोशल मीडिया वाट्सएप पर एक ऑडियो वायरल करने एवं उसमें आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग करने तथा अन्य सूचनाओं के आधार पर पुलिस ने सोमवार तडक़े सोहराब हत्याकांड के मुख्य साजिशकर्ता एवं आदतन अपराधी सिराज खान के ममेरे भाई के घर की घेराबंदी कर तलाशी ली। भारी संख्या में पुलिस एवं एमबीसी के जवानों एवं कई थाना प्रभारियों की एक साथ कार्रवाई इन्द्रा कॉलोनी में लोगों के लिए कौतूहल का विषय बन गई। कार्रवाई में पुलिस ने गत दिनों फायरिंग की वारदात मेंं घायल हुए राजतालाब निवासी फिरोज उर्फ पीपा पुत्र सलीम मोहम्मद को गिरफ्तार भी किया।

पुलिस अधीक्षक कालूराम रावत ने बताया कि सोशल मीडिया पर आपत्ति जनक ऑडियो वायरल करने एवं अन्य सूचनाओं के आधार पर फिरोज के घर की तलाशी ली गई। साथ ही आरोपित को गिरफ्तार कर बांसवाड़ा उपखण्ड मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया, जिसे 50 हजार की तस्दीक शुदा जमानत पर पाबंद करने की कार्रवाई की गई। एसपी ने बताया कि इस कार्रवाई के दौरान डिप्टी वीराराम के साथ कोतवाली के साथ सदर, आंबापुरा, महिला थाने के थाना प्रभारियों के साथ उनका जाप्ता एवं एमबीसी को लगाया गया था।

ऐसी कार्रवाईयां लगातार जारी रहेंगी

एसपी ने बताया कि अब ऐसी कार्रवाईयां लगातार जारी रहेंगी। सोशल साइट्स फेसबुक, वाट्सएप सहित अन्य पर किसी भी प्रकार के मैसेज, ऑडियो, वीडियो सहित अन्य सामग्री प्रेषित करने वालों के खिलाफ पुलिस की अब सतत कार्रवाईयां जारी रहेंंगी। इधर, मामले को लेकर पीपा की ***** जीनत ने बताया कि हमारा किसी अपराधी से लेना देना नहीं है। पीपा राज तालाब रहता है, लेकिन उसके घायल होने की वजह से वह इन्द्रा कॉलोनी में मेरी ***** तबस्सुम के घर रह रहा था। और अगर पुलिस को पाबंदी की कार्रवाई ही करनी थी तो यहां पुलिस का इतना भारी भरकम जाप्ताा लाने की क्या जरूरत पड़ गई थी। पुलिस ने मेरा घर बदनाम किया है।

Ashish vajpayee
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned