तिहरा हत्याकांड: आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर प्रदर्शन, तीन वाहनों में तोडफ़ोड़, पुलिस पर फेंकी चूडिय़ां

तिहरा हत्याकांड: आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर प्रदर्शन, तीन वाहनों में तोडफ़ोड़, पुलिस पर फेंकी चूडिय़ां

kamlesh sharma | Publish: Sep, 02 2018 06:39:32 PM (IST) | Updated: Sep, 02 2018 06:42:17 PM (IST) Banswara, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

बांसवाड़ा। शहर के महात्मा गांधी चिकित्सालय परिसर में शनिवार सुबह पिता और दो पुत्रों की निर्मम हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी एवं अन्य मांगों को लेकर रविवार को एक समुदाय के बड़ी संख्या में लोगों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान महिलाओं ने पुलिस और अंजुमन सदर पर चूडिय़ां फेंकी। कुछ लोगों ने होली चौक और पृथ्वीगंज में तीन वाहनों के शीशे फोड़ दिए और एक-दो घरों पर पत् थर फेंके। इन हालात के बीच मृतकों के शव नहीं लिए गए।

राजतालाब और इंदिरा कॉलोनी भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया कर दिया गया। पुलिस और प्रशासन के अधिकारी दिनभर लोगों को समझाइश करने में लगे रहे लेकिन उन्हें शव दफनाने के लिए सहमत करने में सफलता नहीं मिली।

सवा घंटे तक तनातनी, नारेबाजी
दोपहर करीब तीन बजे इंदिरा कॉलोनी एवं राजतालाब क्षेत्र के बड़ी संख्या में एक समुदाय की महिलाएं अपने-अपने घरों से निकलकर इंदिरा कॉलोनी में एकत्र हो गई और आरोपियों की गिरफ्तारी तथा अन्य मांगों के लिए प्रदर्शन किया। मांगे पूरी करने के लिए कलक्टरी लिए रवाना होने लगी तो पुलिसकर्मियों ने रोका, लेकिन महिलाओं ने प्रशासन एवं पुलिस के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी और आरोप लगाने लगी।

पुलिस ने धारा 144 का हवाला दिया, लेकिन महिलाएं प्रशासन तक अपनी मांगे पहुंचाने के बाद ही घर लौटने पर अड़ गई। तब पुलिस महिलाओं को राजतालाब बड़ के पेड़ के पास चौराहे पर लेकर पहुंची, जहां अतिरिक्त जिला कलक्टर को मौके पर बुलाकर ज्ञापन दिलवाने की बात कहीं।

इसी दरम्यान पृथ्वीगंज की तरफ से भी बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो गए और नारेबाजी करने लगे। वहां शोर शराबे व हंगामे के हालात बन गए। महिलाओं ने पुलिस कर्मियों पर चूडिय़ां फेंकी और खरी खोटी सुनाई। अंजुमन सदर नईम शेख एवं अन्य पर भी चूडिय़ां फेंकी।

कई बार हुई तनातनी
लोगों की मांग पर जब अंजुमन सदर नईम शेख मौके पर पहुंचे तो पहले तो भीड़ नारेबाजी करने लगी और बात सुनने को तैयार नहीं हुई। फिर पुलिस की जीप पर लगे माइक से शेख ने लोगों को संबोधित किया और कहा कि अंजुमन की ओर से इस मामले में पूरी गंभीरता के साथ कार्य किया जा रहा है।

आरोपियों को सजा दिलाने के लिए सुप्रीम कोर्ट तक का खर्चा अंजुमन की ओर से उठाया जाएगा। उन्होंने मामले में एक आरोपी की गिरफ्तारी की बात भी लोगों के समक्ष रखी। इसके बाद माहौल शांत हुआ। साथ ही लोगों से घर लौटने का आह्वान किया। इसके बाद पृथ्वीगंज एवं होली के पास खड़ी एक कार एवं दो मोटरसाइकिलो में कुछ लोगों ने तोडफ़ोड़ कर दी।

यह था मामला
जमीन विवाद को लेकर इंदिरा कॉलोनी निवासी शब्बीर और उसके दो बेटों सईद और शरीफ की शनिवार सुबह अस्पताल परिसर में सरिये से पीट पीट कर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने इस मामले में पांच जनों को नामजद किया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned