banswara : कुशलगढ़ इलाके में हीरन नदी में युवक बहा, दूसरे दिन दोपहर तक नहीं लगा सुराग

बांसवाड़ा जिले के कुशलगढ़ क्षेत्र की हिरन नदी के बावलीयाखाल तट पर गणेश विसर्जन के बादउभरी हुई प्रतिमा को दोबारा पानी में सरकाने गया युवक अचानक पानी के तेज बहाव में बह गया, जिसका दूसरे दिन शनिवार दोपहर तक कोई सुराग नहीं लगा।

By: deendayal sharma

Updated: 14 Sep 2019, 11:00 AM IST

बांसवाड़ा/ कुशलगढ़. जिले के कुशलगढ़ क्षेत्र की हिरन नदी के बावलीयाखाल तट पर गणेश विसर्जन के बाद उभरी हुई प्रतिमा को दोबारा पानी में सरकाने गया युवक अचानक पानी के तेज बहाव में बह गया, जिसका दूसरे दिन शनिवार दोपहर तक कोई सुराग नहीं लगा। सूचना पर पुलिस भी पहुंच गई और युवक को ढूंढने के प्रयास हुए, लेकिन इसमें कोई सफलता नहीं मिली। रेस्क्यू टीमें अब भी युवक की तलाश में जुटी है।
एसपी केसरसिंह शेखावत ने बताया कि कुशलगढ़ वार्ड नंबर तीन के वागडिय़ाफला निवासी बाबूलाल (40) पुत्र फकीरा अपने मित्रों के साथ शाम करीब पांच बजे बावलीयाखाल तट पर नदी का बहाव देखने गया था। इसी दरम्यान उसे नवनिर्मित रपट के पाइप पर गणेश प्रतिमा फंसी हुई दिखाई पड़ी। वह प्रतिमा को नदी में धकेलने का प्रयास करने लगा, लेकिन वहां पानी का वेग बहुत तेज था। इससे उसका संतुलन बिगड़ गया और वह नदी में गिर पड़ा। कुछ देर बाबूलाल ने अपने हाथ चलाए, लेकिन बह गया।

banswara : गैस रिसाव के बाद अचानक भभका सिलेंडर, ईसरवाला में मची अफरातफरी

इधर, थाना प्रभारी हनुवंत सिंह ने बताया कि बाबूलाल का पैर फिसला और वह सीधा नदी में गिर पड़ा। शनिवार सुबह उसकी फिर तलाश शुरू की गई, लेकिन 11 बजे तक कुछ पता नहीं चला। नदी में जल प्रवाह काफी तेज है, जिसके चलते मुश्किलें बढ़ गई हैं। टीमों के प्रयास जारी हैं।

deendayal sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned