Video : बांसवाड़ा : शहर से लेकर गांवों तक रहा भारत बंद, कहीं कराया मुंडन तो कहीं जलाए टायर, सूने रहे बाजार

www.patrika.com/banswara-news

Ashish Bajpai

September, 0711:08 AM

बांसवाड़ा. एसटी-एससी एक्ट में केंद्र सरकार की ओर से किए गए बदलाव के विरोध में गुरुवार को किए गए भारत बंद का असर जिले भर में दिखाई दिया। मुख्य बाजारों में ही नहीं वरन कस्बों के बाजारों यहां तक की गली-मोहल्लों की दुकानों के भी शटर डाउन रहे। बंद व्यापक और शांतिपूर्ण रहा। बासवाड़ा शहर के अलावा जिले के पालोदा, गनोड़ा, बागीदौरा, सज्जनगढ, कुशलगढ़, परतापुर, तलवाड़ा, घाटोल, गांगड़ तलाई, जोलाना, छोटी सरवा सहित कई गांव कस्बों में बंद शांतिपूर्ण और सफल रहा।

बांसवाड़ा शहर में व्यापारियों ने स्वेच्छा से बंद किया है। कुछ दुकानें सुबह खुली, लेकिन कई संगठनों के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने एकजुट होकर वाहन जुलूस निकालकर खुले हुए चंद प्रतिष्ठानों के संचालकों से सहयोग की अपील की। इसके बाद उन्होंने भी अपने प्रतिष्ठान बंद कर दिए। बाजारों में चाय पान की दुकानें तक बंद रही लेकिन फल सब्जी के ठेले लगे। सडक़ों पर औटो रिक् शा और अन्य वाहन भी रोजमर्रा की तरह चले। बंद का सरकारी कार्यालयों के कामकाज पर असर पड़ा। बैंक खुले रहे लेकिर ग्राहकों की संख्या कम रही।

बन्द रहे निजी स्कूल
बंद को देखते हुए कई निजी स्कूलों ने पहले ही अवकाश की घोषणा कर दी।हालांकि कई निजी स्कूल सुबह खुले भी लेकिन माहौल को देखते हुए बाद में उन्होंने भी बच्चों की छुट्टी कर दी।

प्रधानमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन
एसटी/एससी एक्ट में संशोधन के विरोध में करणी सेना के तत्वावधान में राजपूत युवा संगठन एवं सर्व समाज की ओर से प्रधानमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। जिसमें एक्ट में हाल ही में किए गए बदलाव पर असंतोष जताया। इससे पूर्व राजपूत छात्रावास में सर्व समाज के लोग एकत्रित हुए और चर्चा की। फिर जूलूस के रूप में कलक्टरी पहुंचे।

सडक़ों पर यातायात सामान्य
बंद के दौरान सडक़ों पर यातायात सामान्य तरीके से चला। रोडवेज की बसें चली हालांकि निजी बसें नहीं चली। सडक़ों पर ऑटो रिक्शा और अन्य दोपहिया और चारपहिया वाहनों की आवाजाही सामान्य तरीके से हुई। लोगों की सुविधा को देखते हुए बंद समर्थकों ने इसमें सहयोग का रुख अपनाया।

किसान ने कराया मुंडन
गनोड़ा में किसान दुर्गाराम व्यास ने एक्ट के खिलाफ गनोड़ा मुख्य चौराहे पर मुंडन कराया। दुर्गाराम के मुताबिक वह सरकार के संशोधन के फैसले से क्षुब्ध हैं। जब देश का संविधान सभी को बराबरी का हक देता है तो एक्ट के तहत लोगों को अलग क्यों किया जा रहा है।

टायर जलाकर विरोध
ठीकरिया . ठीकरिया, नवागांव व टामटीया आहड़ा में प्रतिष्ठान बंद रहे। ठीकरिया बस स्टेण्ड पर टायर जला कर एक्ट विरोध किया। नवागांव के युवाओं ने रैली निकाल कर दुकानें बंद करवाई। हनुमान मंदिर परिसर मे एसटी-एससी एक्ट के विरोध मे बैठक रखी गई। जिसमें कई ग्रामीण उपस्थित थे।

Show More
Ashish vajpayee Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned