बांसवाड़ा : आए दिन जाम से लोग परेशान, साढ़े चार करोड़ का पुल आ रहा पार्किंग के काम

बांसवाड़ा : आए दिन जाम से लोग परेशान, साढ़े चार करोड़ का पुल आ रहा पार्किंग के काम

Ashish Bajpai | Updated: 10 Mar 2018, 09:34:05 PM (IST) Banswara, Rajasthan, India

पुल चौड़ा हुआ, सडक़ की भूमि के अधिग्रहण को लगा ‘ग्रहण’

बांसवाड़ा. शहर के मध्य कागदी नदी के पुल पर बढ़ते यातायात को देखते हुए करीब 5-6 साल पहले पुल चौड़ा करने के साथ संपर्क सडक़ की कवायद अभी तक रेंग ही रही है। लगभग साढ़े चार करोड़ की लागत से पुल तो बन गया, लेकिन सम्पर्क सडक़ नहीं बनने से पुल केवल पार्किंग के ही काम आ रहा है। ऐसे में आए दिन यहां जाम लगता रहता है और लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

13 माह तक अटकी रही धारा ए की कार्रवाई
राष्ट्रीय राजमार्ग 113 पर स्थित कागदी नदी पर बने 20 मीटर चौड़े पुल के लिए भूमि अधिग्रहण के लिए 3(ए) की कार्रवाई के तहत सबसे पहले 18 नवम्बर 2014 को भारत सरकार के राजपत्र में प्रकाशन किया गया था। इसके बाद विभागीय लापरवाही के चलते आगे की कार्रवाई करीब 13 माह तक ठप रही तथा 16 मार्च 2016 को स्थानीय लोगों की ओर से की गई आपत्तियों की सुनवाई कर निस्तारण किया गया। इस प्रक्रिया के बाद धारा 3 (डी) की कार्रवाई करने के लिए भू-तल एवं परिवहन मंत्रालय को लिखा गया, लेकिन विभाग ने यह कहकर प्रक्रिया को करने से इनकार कर दिया कि धारा ए और डी के मध्य कार्रवाई में एक साल से अधिक का समय लगने से भूमि अवाप्ति की प्रक्रिया फिर से की जाए। इस पर फिर से धारा 3 (ए ) की कार्रवाई के लिए 26 मई 2017 को राजपत्र में प्रकाशित किया गया।

वहीं संबंधित जमीन को अवाप्त करने के लिए धारा 3 (डी) की कार्रवाई के लिए 4 जनवरी 2018 को राजपत्र में प्रकाशन किया गया। इसकी जानकारी सार्वजनिक करने स्थानीय समाचार पत्रों में इसका प्रकाशन कराने के लिए परियोजना प्रबंधक एवं अधिशासी अभियन्ता हरगोविन्द ने 8 जनवरी 2018 को भू-तल एवं परिवहन मंत्रालय के सक्षम अधिकारी को भेजा है, लेकिन करीब डेढ़ माह बाद भी इसकी स्वीकृति नहीं मिलने पर विभाग की ओर से 22 फरवरी 2018 को स्मरण पत्र भेजा है। विभागीय लापरवाही के चलते सम्पर्क सडक़ के लिए जमीन की अवाप्ति नहीं होने से हजारों लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, वहीं दूसरी ओर जमीन अधिग्रहण की कार्रवाई से प्रभावित होने वाले व्यापारियों ने भी इसे लेकर आपत्तियां दर्ज कराई थी, जिसको लेकर पूर्व में विवाद की स्थिति बनी थी।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned