बांसवाड़ा में ईदुलजुहा पर शाही जुलूस निकला, विशेष नमाज अदा कर खुदा की राह में प्रिय वस्तु की कुर्बान

deendayal sharma

Updated: 12 Aug 2019, 12:40:55 PM (IST)

Banswara, Banswara, Rajasthan, India

बांसवाड़ा. खुदा की राह में अपनी प्रिय वस्तु कुर्बान करने का पर्व ईदुलजुहा सोमवार को परम्परानुसार मनाया गया। मुस्लिम समुदायजनों की ओर से शाही जुलूस निकाला गया। ईदगाह पर विशेष नमाज अदा कर खुशहाली की दुआएं मांगी। समुदायजनों ने एक-दूसरे के गले मिलकर बधाइयां दीं। इसके बाद समुदायजनों ने अपने घरों में कुर्बानी की रस्म अदा की।
ईदुलजुहा पर सुबह निकाले जाने वाले शाही जुलूस के लिए निर्धारित समय से पहले ही समुदायजन परम्परागत परिधान पहने जामा मस्जिद पहुंचना शुरू हो गए थे। सुबह पौने आठ बजे जामा मस्जिद से गाजेबाजे से शाही जुलूस रवाना हुआ। जुलूस आजाद चौक, महालक्ष्मी चौक, कालिकामाता, गोरखइमली, पृथ्वीगंज होते हुए राजतालाब स्थित ईदगाह पहुंचा। यहां मौलाना कारी मुजफ्फर हुसैन अशफाकी ने विशेष नमाज अदा कराई। इसके बाद लोगों ने एक-दूसरे को दिली मुबारकबाद दी। जुलूस में अंजुमन सदर नईम शेख, जनरल सैकेट्री कलीम मोहम्मद, नायब सदर शफीक पहलवान, मालियात सैकेट्री जाहिर अहमद, तालीम सैकेट्री सादिक खान अफगानी सहित बड़ी संख्या में समुदायजन सम्मिलित रहे। ईदगाह के अतिरिक्त शहर के विभिन्न मस्जिदों में भी ईद की विशेष नमाज अदा की गई।
बताई ईद की अहमियत: मुफ्ती आसिफ निस्बई ने इ्र्रद की अहमियत पर तकरीर पेश की। वहीं अंजुमन सदर नईम शेख व जनरल सैकेट्री कलीम मोहम्मद ने अपने संबोधन में कहा कि समुदायजन ईद के पाक मौके पर एक-दूसरे की मदद करने का संकल्प लें और वतन की खुशहाली में अपनी अहम भूमिका निभाएं। उन्होंने सशक्त समाज के निर्माण में युवाओं से भी योगदान देने का आह्वान किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned