#changemaker : Video : चेंजमेकर और वॉलंटियर बोले : राजनीति का स्वरूप बदलने के लिए महिलाओं-युवाओं की बढ़े भागीदारी

deendayal sharma

Publish: Mar, 17 2019 12:43:38 PM (IST)

Banswara, Banswara, Rajasthan, India

घाटोल/बांसवाड़ा. लोकसभा चुनाव के मद्देनजर राजनीति में स्वच्छ छवि के लोगों को आगे लाने के मकसद से शुरू की गई पत्रिका की चेंजमेकर मुहिम के तहत रविवार को संडे पॉलिटिकल क्लब से घाटोल में चेंजमेकर्स और वॉलंटियर जुटे। इस दौरान संवाद में वॉंटियर्स ने राजनीति में वंशवाद पर सवाल उठाकर काबिल महिलाओं और युवाओं की भागीदारी बढ़ाने पर जोर दिया। बांसवाड़ा-डूंगरपुर लोकसभा क्षेत्र के विधानसभा क्षेत्र घाटोल के वॉलंटियर्स में शामिल कल्पना खटकड़ ने कहा कि कर्मचारियों की तरह नेताओं के लिए भी उम्र और योग्यता की बाध्यता होनी चाहिए। उन्होंने सवाल किया कि देश में वंशवाद कब तक चलेगा। विश्व मेंं सबसे ज्यादा युवा वर्ग वाला देश भारत है, इसलिए युवाओ को पूरा मौका मिलना चाहिए। महिला कों राजनीति मेंं बराबर क़ा हक मिलना चाहिए। वर्तमान राजनीति क़ा स्वरूप बदलकर कर सिफऱ् वोट देने तक नहीं, बल्कि इसके बाद जगाने का अधिकार रखना चाहिए। खटकड़ ने आतंकवाद पर राजनीति को लेकर भी तीखी प्रतिक्रिया जताई। कार्यक्रम में महावीरपुरी राठौड़ ने कहा कि बड़े मुद्दे से लोगों कों कोई लेना-देना नहीं है। यहां के लोगों को रोजगार की जरूरत है, किसानों कों फसलों के सही दाम की जरूरत है। आज भी लोग बिजली, पानी, सडक़ के लिए तरस रहे हैं। देश को एक मजबूत सरकार की जरूरत है, जिससे आमजन को योजनाओं क़ा लाभ मिले। इस अवसर दर्शना कलाल ने कहा कि पार्टियों को चुनाव के समय ही जनता याद आती है। गांवों के हालात ठीक नहीं है। रोजगार की जरूरत है । राजनीति मेंं महिलाओं को आगे आने कि जरूरत है। संचालन पत्रिका प्रतिनिधि विनोद नायक ने किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned