माही बांध के पानी से अबतक 50 लाख यूनिट बिजली बनाई, लीलवानी पावर हाउस में भी उत्पादन शुरू

माही बांध के पानी से अबतक 50 लाख यूनिट बिजली बनाई, लीलवानी पावर हाउस में भी उत्पादन शुरू

Varun Kumar Bhatt | Updated: 17 Aug 2019, 04:38:40 PM (IST) Banswara, Banswara, Rajasthan, India

Mahi Dam Banswara : लीलवानी में एक यूनिट शुरू, पानी की आवक बढऩे पर चालु होगी दूसरी यूनिट

बांसवाड़ा. लबालब माही बांध के पानी से बांसवाड़ा में रतलाम मार्ग से सटे पावर हाउस नंबर एक से बिजली उत्पादन 50 लाख यूनिट हो चुका है। इसके अलावा शुक्रवार शाम को लीलवानी स्थित 45 मेगावाट की एक इकाई चालू कर दी गई। हालांकि कागदी से अभी पानी कम ही मिल रहा है, इससे दूसरी यूनिट नहीं चलाई जा सकी है। गौरतलब है कि माही बांध भरने के बाद बीते चार-पांच दिनों से पावर हाउस नंबर एक की 25-25 मेगावाट की दोनों इकाइयों में लगातार बिजली उत्पादन का क्रम जारी है। इसके चलते अब तक 50 लाख यूनिट बिजली बनाई जा चुकी है। विद्युत उत्पादन निगम के अनुसार कागदी बांध की भराव क्षमता को देखते हुए उसी अनुपात में माही बांध से पानी लेकर दोनों इकाइयों को चलाया जा रहा है, जिससे आगे दिक्कत नहीं रहे। जल संसाधन विभाग माही बांध का जलस्तर 281.20 मीटर बनाए रखे हैं।

बेणेश्वर धाम तीन दिनों से टापू, त्रिवेणी में पानी की आवक होने से सम्पर्क कटा, 25 लोग फंसे

इस बीच, लंबे इंतजार के बाद बांयी मुख्य नहर के अवरोध हटाने के बाद कागदी से लीलवानी पावर हाउस के लिए पानी देना शुरू कर दिया गया। इस बारे में लीलवानी पावर हाउस के सहायक अभियंता सीके यादव ने बताया कि शाम चार बजे से एलएमसी से 900 क्यूसेक पानी की आवक होने पर 45 मेगावाट की एक इकाई चालू कर जनरेशन शुरू कर दिया गया। कागदी से दूरी ज्यादा होने और शुरुआत में 300 से 500 क्यूसेक पानी ही आवक के चलते लीलवानी डेम भरने में समय लगा है। अब पानी की आवक और बढऩे पर दूसरी यूनिट चलाना संभव होगा।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned