बांसवाड़ा/डूंगरपुर. विश्व विख्यात सोम , माही एवं जाखम नदियों के पवित्र त्रिवेणी संगम स्थल बेणेश्वर धाम पर बुधवार को आदिम लोक संस्कृति का जीवंत दिग्दर्शन हुआ। माघ पूर्णिमा पर आस्था के इन घाटों पर श्रद्धा हिलोरे लेती दिखी और अलसुबह से देर रात्रि तक चहुंओर मेलार्थियों का जमघट ही जमघट दिखे संत मावजी महाराज के जयकारों से धाम गूंज उठा। दिनभर हुए विविध धार्मिक एवं लोक संस्कृति से ओतप्रोत हुए आयोजनों में अपार जनसमूह दिखा। मेले में हर तरफ धर्म-ध्वजा लिए भक्तों के रैले के रैले ही दिखे।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned