बांसवाड़ा में होनहार बालिकाओं ने स्कूल संचालन में दिखाई दिलचस्पी, साझा किए दिनभर के अनुभव

deendayal sharma

Updated: 12 Oct 2019, 12:09:15 PM (IST)

Banswara, Banswara, Rajasthan, India

बांसवाड़ा. शिक्षा विभाग की ओर से बालिका शक्ति दिवस पर किए नए प्रयोग के तहत होनहार बेटियों को एक दिन के लिए स्कूल संचालन की जिम्मेदारी सौंपी गई। स्कूल के प्रति जिम्मेदारी के भाव पैदा करने और संचालन में आने वाली चुनौतियां महसूस कराने के मकसद से किए इस प्रयोग के दौरान बेटियों ने अपनी कुशलता भी प्रदर्शित की।

शहर के राजकीय बालिका उमावि चंद्रपोल गेट में उत्तराखंड की बेटी कृतिका कार्की ने संस्थाप्रधान चंद्रिका शर्मा की सीट संभाली और स्कूल संचालन के लिए बालिकाओं की एक टीम तैयार की। टीम को अलग अलग कक्षाओं में भेजकर पाठ्यक्रम, तैयारियां, बोर्ड कक्षा की बैठक आदि काम करने की छूट दी गई। अंत में छुट्टी होने से 15 मिनट पहले ही संस्थाप्रधान कक्ष में टीम की बैठक ली और एक एक से जानकारी हासिल की।

कृतिका ने बताया कि वाकई यह चुनौतीभरा काम होता है, लेकिन प्लानिंग के साथ करें तो आसान है। चंद्रपोल की प्रिंसिपल चंद्रिका शर्मा ने बताया कि बेटियों के लिए इस तरह के प्रयोग होते है तो बच्चों में जिज्ञासा के साथ ही हुनर भी निखर कर आता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned