Video : बांसवाड़ा : झूलेलाल महोत्सव में सिंधी भजनों पर झूमे समाजजन, लतीफों पर हुए लोट-पोट, कलाकारों ने खूब तालियां बटोरी

By: Sanjay Kumar Singh

Updated: 04 Apr 2019, 02:15 PM IST

Banswara, Banswara, Rajasthan, India

बांसवाड़ा. श्रीझूलेलाल सेवा समिति की रजत जयंती तथा सात दिवसीय श्रीझूलेलाल जन्म महोत्सव के तहत बुधवार रात आठ बजे पृथ्वी क्लब में परमानंद प्यासी ने श्रोताओं को हंसा-हंसा कर लोट-पोट कर दिया। श्रोताओं की कलाकारों ने खूब तालियां बटोरी। हास्य गायक परमानंद प्यासी ने अपने चुटकलों ओर लतीफों से श्रोताओं को हंसाया तो सिंधी गायिका सोनिया निहलानी की ओर से प्रस्तुत सिंधी भाषा के भजनों पर समाज के लोग झूम उठे। सोनिया ने सिन्धी अबाणी बोली मीठडी, अबाणी बोली हिन खे मां कियं विसारयां। सिन्धी अबाणी बोली। दूसरा गीत जीये मुंहजी सिन्ध घोरयां मां तो हिन्द अब्बा रे वन्यण सां, तीसरा गीत झूले झूलेलाल मस्त कलन्दर प्रस्तुत किया।

इससे पहले आयोजकों की ओर से कलाकारों का स्वागत किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता सिंधी पंचायत बांसवाड़ा के संरक्षक गोकुलदास रूपचंदानी ने की। मुख्य अतिथि राष्ट्रीय सिंधी समाज के अध्यक्ष कमल वरधानी रहे। विशिष्ट अतिथि दौरान राष्ट्रीय सिंधी समाज के राष्ट्रीय महासचिव मुकेश सचदेव, राष्ट्रीय सिंधी समाज के उपाध्यक्ष किशन वाधवानी रहेे।

गुरु का स्वागत
कार्यक्रम के दौरान अहमदाबाद वाले गुरु संजय कुमार मसंद का समाजजनों ने भव्य स्वागत किया। इस दौरान उन्होंने प्रवचन भी दिए। सिंधी समाज के अध्यक्ष अनिल मेठानी ने बताया कि इस दौरान मां वेलड़ी परिवार के करण मेठानी, अमित टेहलानी, राहुल समेत दर्जनों लोग मौजूद थे। सभी ने अतिथियों का स्वागत किया। साथ ही सामूहिक भोजन व्यवस्था की गई। जिसमें महिला सेवा समिति की कंचन लालवानी, नीलम टेहलानी आदि सभी का सहयोग रहा।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned