बांसवाडा़ : पत्नी बनाने की नियत से किया किशोरी का अपहरण, बंधक बनाकर करता रहा 2 माह तक दुष्कर्म

मुख्य आरोपित सहित 13 आरोपित नामजद

By: Ashish vajpayee

Published: 04 Jan 2018, 12:13 PM IST

कुशलगढ़. पत्नी बनाने की नीयत से किशोरी का अपहरण व बंधक बनाकर दुष्कर्म के आरोप में पुलिस ने मुख्य आरोपित सहित 13 जनों को नामजद किया है। पुलिस को दी रिपोर्ट में पीडि़ता ने बताया कि दो माह पूर्व वह कॉलेज में पढऩे आई थी। लौटते समय वडला की रेल निवासी वासु पुत्र मांगु डांगी ने उसे घर छोडऩे का कहकर बाइक पर बैठा लिया। जहां से आरोपित बाइक गांव की बजाय अन्यत्र की तरफ ले जाने लगा। विरोध करने पर उसने बताया कि मार्ग में उसका दोस्त इंतजार कर रहा है उसे भी साथ लेना है। रास्ते में खड़े युवक को भी बाइक पर बैठा लिया।

आरोपित ने युवक को उसका भाई गोरसिंग बताया। अपरहण की आशंका होने पर वह चिल्लाने लगी तो गोरसिंग ने उसका मुंह बंद कर दिया। बाद में आरोपत बाइक को उसके घर वडला की रेल ले गया। जहां उसे एक कमरे में बंद कर दिया। यहां वासु के परिजनों ने उसे वासु की पत्नी बनने का दबाव बनाया व ऐसा नहीं करने पर जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद वासु उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। वहां से आरोपित वासु की बुआ के यहां ले गए जहां 15 दिनों तक बंधक बना कर रखा। वहां से वासु उसे महाराष्ट्र मजदूरी करने ले गया। करीब महीने भर पूर्व वासु उसे पुन: वडला की रेल लेकर आया जहां मौका देखकर उसने अपने पिता को फोन पर सूचना दी।

इस पर उसके पिता वाहन लेकर परिवार वालों के साथ वडला की रेल पहुंचे। परिजन के आते ही वह आरोपितों के चंगुल से निकलकर गाड़ी में बैठ गई। इस दौरान भी आरोपित उसे पकडऩे के लिए पीछे दौड़े। इधर आरोपितों ने पीडि़ता के पिता, भाई व चाचा को पकड़ लिया। मामले में पुलिस ने वासु पुत्र मांगु,गोरसिंग पुत्र मांगु, देवीलाल पुत्र मांगु, मांगु पुत्र हुरजी, बालुसिंग पुत्र हुरजी, कमला पत्नी बालूसिंग, भूरी पत्नी मांगुसिंग, कमलेश पुत्र रूपजी, मानसिंग पुत्र फता, रिसु पत्नी सुरेश, बंसती पत्नी दितु, रूपजी पुत्र हवजी व सुरेश के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर जांच प्रारम्भ कर दी।

Show More
Ashish vajpayee
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned