बांसवाड़ा : खाने में सलाद गायब, नहाने के लिए नहीं साबुन, जनजाति कन्या छात्रावास में सुविधाओं का अभाव, छात्राओं ने कलक्टरी पर किया प्रदर्शन

www.patrika.com/banswara-news

By: Ramkaran Katariya

Published: 18 Dec 2018, 02:03 PM IST

बांसवाड़ा. राजकीय अनुसूचित जनजाति कन्या छात्रावास में दोयम दर्जे का भोजन मिलने और अन्य देय सुविधाओं के अभाव से परेशान छात्राओं ने सोमवार को हॉस्टल वार्डन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया और कलक्टरी में प्रदर्शन करने के बाद जिला कलक्टर से शिकायत की। छात्राओं ने कलक्टर को दिए ज्ञापन में कहा कि हॉस्टल वार्डन की मनमानी हावी है। छात्राओं को हॉस्टल में दोयम दर्जे भोजन परोसा जा रहा है। इसका जब उनकी ओर से विरोध किया जाता है तो दमनकारी आदेश लागू कर उनकी आवाज को दबाया जा रहा है। शौचालयों की साफ-सफाई का भी बिल्कुल ध्यान नहीं दिया जा रहा है। बीस दिन में अगर एक बार कोई सफाई करने आ गया तो ठीक नहीं तो शैचालय गंदे ही पड़े रहते हैं, जिससे संक्रमण का खतरा बना हुआ है।

ये गिनाई समस्याएं
छात्राओं ने बताया कि हॉस्टल में उन्हें बीस दिन में एक बार फल दिया जाता है। वह भी ताजा नहीं होता है। सप्ताह में केवल एक दिन रविवार को डाइट में चावल एवं दाल देते हैं जबकि सलाद तो आज तक नहीं दिया गया है। नहाने के लिए साबुन और तेल नहीं दिया जाता । उन्हें आए दिन इस तरह परेशानियों का सामना करना पड़ता है। छात्राओं ने आरोप लगाया कि हॉस्टल वार्डन दो दिन में एक बार आती है। वह भी आधे घंटे में हाजिरी कर निकल जाती है। छात्राओं को हॉस्टल में किन परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इससे उन्हें कोई मतलब नहीं हैं।

दाल कम पानी ज्यादा, रोटी भी अधकच्ची!
बांसवाड़ा. स्थानीय राजकीय डॉ. भीमराव अम्बेडकर छात्रावास में छात्रों को मीनू के अनुसार भोजन उपलब्ध नहीं कराने की शिकायत छात्रसंघ नेताओंं ने कलक्टर से की है। ज्ञापन में बताया कि दाल में पानी ज्यादा और दाल कम होती है। रोटी भी बड़ी एवं अधकच्ची दी जाती है। दूध में भी पानी अधिक मिलाया जाता है। सुबह का नाश्ता भी नहीं मिलता। शाम के समय तो रोजाना गोभी व आलू की सब्जी ही बनाई जा रही है। इन दिनों सर्दी बढ़ गई, लेकिन स्वेटर भी गुणवत्ता वाले नहीं है। सप्ताह में एक दिन मिलने वाले फल भी नहीं मिल रहे। तेल, साबुन भी कम दिया जाता है। बाथरूम की भी नियमित सफाई नहीं की जाती। मनोहर खडिय़ा, पूर्व उपाध्यक्ष कांतिलाल निनामा, जितेन्द्र डोडियार, राहुल मईड़ा, निलेश डामोर आदि ने ज्ञापन में सभी समस्याओं के निराकरण की मांग की है।

Show More
Ramkaran Katariya Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned