बांसवाड़ा कारागार से कुख्यात अपराधियों को भेजा अजमेर जेल, रिमांड के दौरान जेल में मोबाइल पहुंचाने वालों के नाम उगले

banswara crime news : जेल के मुख्यद्वार व दीवार पार से पहुंचे चार मोबाइल, हर दिन 30-40 कॉल्स


बांसवाड़ा. जेल कार्मिकों की मिलीभगत से सुरक्षा में चूक घातक हो रही है। बांसवाड़ा जिला काराग्रह के कुख्यात अपराधियों तक पांच मोबाइल फोन जेल के मुख्यद्वार और दीवार के पीछे से पहुंचे थे, जिनको पहुंचाने में दो और आरोपियों का नाम सामने आया है। इनमें एक तो सिराज की मौसी का लडक़ा है। यह खुलासा पुलिस रिमांड के दौरान कुख्यात अपराधी सिराज खान एवं उसके भाई इम्तियाज ने पूछताछ के दौरान किया है। दोनों अपराधियों को पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के बीच सशस्त्र जवानों के साथ मंगलवार को बांसवाड़ा जिला काराग्रह से अजमेर जेल में स्थानांतरण किया है। कोतवाली थाना प्रभारी भैयालाल आंजना ने बताया कि जिला काराग्रह में तीन मोबाइल मिलने के मामले में दोनों कुख्यात अपराधियों को रिमांड पर लिया गया। अपराधियों ने बताया कि करीब ढाई माह पहले कुशलगढ़ के किशन नाम के आरोपी से इम्तियाज की जेल में मुलाकात हुई। इम्तियाज के इशारे पर किशन बाहर उसके साले से मिला, जहां उसने किशन को सिम लगा मोबाइल दिया। जो उसने दीवार के पीछे से जेल में भीतर फेंका। दूसरे मोबाइल को सिराज नमकीन की थैली के भीतर छुपा कर मुख्यद्वार से जेल में लेकर गया था। नमकीन की थैली पेशी के दौरान किसी परिवार के सदस्य ने दी थी। वहीं तीसरा मोबाइल कंधारवाड़ी निवासी आफराज पुत्र अयूब ने दीवार के पीछे से जेल के भीतर फेंका। आफताब कुख्यात अपराधी सिराज की मौसी का लडक़ा है।

हजारों फोन कॉल्स, बाथरूम की दीवार में छेद : - जिला काराग्रह की दो बार सघन तलाशी के दौरान पुलिस को चार मोबाइल बरामद हुए। इनमें पांच सिमें लगी थी। पुलिस ने इन सभी कॉल्स को टटोलना शुरू कर दिया। सभी फोन से हजारों कॉल्स हुए हैं। मतलब 30- 40 कॉल्स प्रतिदिन होना सामने आया है। अपराधियों ने इन फोन से परिजन, अधिवक्ता से लेकर अन्य कई लोगों को फोन किए हैं। इसका अनुसंधान अभी चल रहा है। पुलिस ने बताया कि अपराधियों ने शौचालय की दीवार के बाहर की ईंट खुदाई कर उखाड़ रखी है, जिसके भीतर वे मोबाइल व अन्य सामग्री रखते हैं। इसके बाद ईंट को वहीं रख देते हैं। इससे कोई शक भी नहीं कर पाता है। पुलिस के अनुसार आरोपियों ने ऐसे और भी कई स्थान बना रखे हैं, जहां उन्होंने मोबाइल फोन सहित अन्य सामग्री को रख रखा है। सीआई ने बताया कि आरोपी मोबाइल फोन पर गुटखा और फिर पॉलिथीन लपेटकर जेल के भीतर फेंकते हैं। अपराधी निर्धारित समय पर ऐसा करवाते हैं।

Show More
deendayal sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned