बांसवाड़ा में दो कोरोना नेगेटिव से राहत, सीआई समेत दो नए संदिग्ध मिलने से फिर बढ़ी टेंशन, देखें वीडियो...

Covid19 in banswara, corona virus : कोरोना को लेकर खौफ बरकरार, चिकित्सा विभाग में दिन-रात की दौड़भाग

बांसवाड़ा. जिले में कोरोना को लेकर खौफ बरकरार है। बुधवार को यहां एमजी अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती दो संदिग्धों की नेगेटिव रिपोर्ट से कुछ राहत की खबर आई, वहीं हाल ही भीलवाड़ा से आए पुलिस महकमे के एक सीआई स्तर के अधिकारी समेत दो नए संदिग्ध भर्ती होने से चिकित्सा विभाग में फिर टेंशन हो गई। हालांकि विभागीय टीमें दिन-रात दौड़भाग कर स्क्रीनिंग में लगी है, लेकिन जिले के बाहर और अन्य प्रांतों से आए लोगों की रह-रहकर जानकारियां सामने आने से तनाव घटने का नाम नहीं ले रहा। सीएमएचओ डॉ. हीरालाल ताबियार के अनुसार जिले में स्थिति नियंत्रण में है। बुधवार को गांवों-कस्बों में जांच के लिए 1153 के अलावा और टीमें बढ़ाई गई। कुल 1448 टीमों ने दिनभर में 29 हजार 23 घरों में मुआयना किया। अब तक एक लाख 17 हजार 909 लोगों की स्क्रीनिंग हो चुकी है, जिनमें केवल दो संदिग्ध मरीज एमजी अस्पताल में सामने आए हैं।

दो की छुट्टी, दो नए पर अब फोकस : - जिला मुख्यालय के एमजी अस्पताल की रेपिड रेस्पांस टीमों ने विभिन्न सूचनाओं पर सुबह से शाम चार बजे तक 39 जनों को लाकर यहां स्क्रीनिंग करवाई। दिल्ली, दार्जीलिंग, जयपुर, भीलवाड़ा, सूरत, पंजाब, अहमदाबाद आदि शहरों से आए इन लोगों में से दो संदिग्ध पाए गए। इनमें एक भीलवाड़ा से दो दिन पहले आए सीआई गोपाल चंदेल को सर्दी-जुकाम और बुखार होने से संदेह बढ़ा, तो आइसोलेट कर नमूना जांच के लिए भेजा गया। इसके अलावा कोहाला, तलवाड़ा निवासी गौरव पंचाल वस्त्राल, अहमदाबाद से 20 मार्च को आया था। वहां एमबीए फाइनल की पढ़ाई कर रहे गौरव के लक्षण संदिग्ध प्रतीत हुए, तो भर्ती कर नमूना लिया गया। इससे पहले भीलवाड़ा के कोरोना पीडि़त डॉक्टर के संपर्क में आए युवक और एक अन्य संदिग्ध की उदयपुर से नेगेटिव रिपोर्ट मिली, तो उन्हें डिस्चार्ज कर 14 दिन के होम आइसोलेशन पर भेज दिया गया।

अस्पताल में मरीजों की कतार जारी : - इधर, कोरोना के खौफ से एमजी अस्पताल के ओपीडी में सर्दी-खांसी, जुकाम-बुखार के मरीजों की कतारें बुधवार को देखी गईं। यहां तीन-चार चिकित्सकों को केवल इन्हीं के लिए लगाया गया है, वहीं रेपिड रेस्पांस टीमों द्वारा चिह्नित मरीज स्क्रीनिंग के लिए अलग से जेरिएट्रिक वार्ड में बनाए कक्ष में की गई। यहां संसाधनों की कमी पर स्टाफ में खौफ बना हुआ है। उधर, दोपहर बाद कंधारवाड़ी मस्जिद में नमाज के लिए जुटे 50 लोगों को कोतवाली लाने पर इनमें बाहर से आए युवा भी शामिल होने की जानकारी पाकर रेपिड रेस्पांस टीम ने पहुंचकर स्क्रीनिंग की।

Corona virus
Show More
deendayal sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned