बांसवाड़ा : डेढ़ माह पहले बिछड़ी मनोरोगी, भटकते देख पुलिस ने दिखाई दरियादिली, परिजनों को सौंपा, देखें वीडियो...

Banswara Latest Hindi News : पाड़ला पुलिस ने सेवाएं देने के बाद परिजनों बुलाकर सौंपा

By: Varun Bhatt

Updated: 26 Aug 2020, 12:39 PM IST

बांसवाड़ा. अपनों से बिछडकऱ रतलाम रोड पर पाड़ला के आसपास भटक रही एक मनोरोगी महिला को पुलिसकर्मियों ने अपनी चौकी में आसरा दिया। फिर परिजनों की तलाश कर बुलवाकर मंगलवार को उसे सौंपा। आंबापुरा थानाधिकारी किरेंद्रसिंह ने बताया कि चार दिन पहले पाड़ला चौकी क्षेत्र में 22-24 वर्षीया महिला मैले-कुचेले कपड़ों में भटकती दिखी। बारिश में लगातार भिगने से ठिठुरती महिला दिखने पर चौकी इंचार्ज रवि थापा ने उससे पूछताछ करने का प्रयास किया, तो वह कुछ नहीं बोली। मनोरोगी प्रतीत होने पर महिला कांस्टेबल के साथ उसे पुलिस चौकी भेजा गया। यहां नहला-धुलवाकर नए कपड़े पहनवाने के बाद तीन-चार दिन तक भोजन का प्रबंध कर रखना पड़ा। महिला के जुबान नहीं खोलने पर मूक समझकर परिजनों की तलाश के लिए फोटो सभी थानों में भेजा, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला।

VIDEO : माही के खूबसूरत टापूओं पर टापरों में जिन्दगी की जंग, आवाजाही के लिए नाव ही सहारा, देखें वीडियो...

मंगलवार सुबह महिला कुछ सहज नजर आई और उसने अपना नाम कमला पुत्री भेरिया मसार और गांव खमेरा क्षेत्र का कडुवा आमरी बताया। पुलिस ने उसकी पुष्टि की। इसमें पता चला कि उसके पिता का नाम हीरिया मसार है। वह शादीशुदा है और दिमागी हालत बिगडऩे पर ससुराल पक्ष से छोड़ देने के कारण करीब तीन साल से पीहर में रह रही है। डेढ़ महीने पहले वह लापता हो गई। इसे लेकर थाने में रिपोर्ट नहीं दी, लेकिन परिजन तलाश कर रहे थे। बाद में कमला का भाई लक्ष्मण दोपहर में पाड़ला पुलिस चौकी आया, तो कमला उसे लिपट गई। कुंडला सरपंच अशोक डामोर की मौजूदगी में कमला को उसके भाई को सौंपा गया।

Varun Bhatt
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned