दर्दनाक हादसा : बीच सडक़ दो मोटरसाइकिलों की खतरनाक भिड़ंत, सरपंच पुत्र सहित तीन युवकों की मौके पर ही मौत

Varun Kumar Bhatt

Updated: 31 Jul 2019, 12:16:21 PM (IST)

Banswara, Banswara, Rajasthan, India

परतापुर/बांसवाड़ा. गढ़ी थाना क्षेत्र के बोरी गांव के पास मुख्य सडक़ पर मंगलवार शाम दो मोटरसाइकिल में भिडंत में तीन युवकों की मौके पर ही मौत हो गई। एक अन्य घायल हो गया। घायल को परतापुर सामुदायिक चिकित्सालय से प्राथमिक उपचार के बाद रैफर किया गया। पुलिस के अनुसार कुवालिया निवासी एंथनी डामोर पुत्र प्रकाश डामोर एवं उसका साथी भावेश पुत्र वेलजी पाटीदार परतापुर से बाइक पर अपने गांव जा रहे थे तभी रास्ते में बोरी के पास सामने से आई बाइक से भिडं़त हो गई। हादसे में एंथनी एवं दूसरी बाइक पर सवार गुजरात के वातड़ा (बनासकांठा) निवासी रमेश चौधरी पुत्र हरदान चौधरी एवं उसके साथी धाणता (सांचोर) निवासी कैलाश मीणा की मौके पर मौत हो गई। जबकि भावेश पाटीदार गंभीर रूप से घायल हो गया।

बांसवाड़ा में बाइक चालकों के लिए हेलमेट अनिवार्य, बिना हेलमेट घर से निकले तो कट जाएगा चालान

सूचना पर गढ़ी थाने से उप निरीक्षक सुनील कुमार व एएसआई गोविन्दसिंह मौके पर पहुंचे, जहां से शवों व घायल को परतापुर चिकित्सालय पहुंचाया। घायल भावेश को प्राथमिक उपचार के बाद रैफर किया गया। इधर, दुर्घटना की सूचना पर घटना स्थल एवं चिकित्सालय में भीड़ एकत्र हो गई। मृतक एंथनी के परिवारजन एवं रमेश चौधरी के रिश्तेदार चिकित्सालय पहुंचे, जहां शव देखकर विलाप करने लगे। रमेश अपने जीजा डूंगराराम की स्टील फर्नीचर की दुकान पर काम करता था एवं कैलाश मीणा दुकान में हेल्पर था। रमेश एवं कैलाश दोनों बोरी में कार्य से आए थे जो शाम को परतापुर लौट रहे थे। गढ़ी सीआई गोविन्दसिंह राजपुरोहित ने चिकित्सालय पहुंचकर घटना की जानकारी ली। मृतक एन्थनी की मां वर्तमान में अरथूना पंचायत समिति की कुवालिया ग्राम पंचायत की सरपंच है।

आपके घरों तक रोशनी पहुंचाने में बुझ गए कई घरों के चिराग, राजस्थान में बिजली के खंभों पर 3 साल में 30 मौतें, फिर भी जिम्मेदार बेपरवाह

समय पर नहीं पहुंची एम्बुलेंस
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार दुर्घटना के बाद एम्बुलेंस के समय पर नहीं पहुंचने से चारों मौके पर काफी देर पड़े रहे। पुलिस ने एम्बुलेंस के पहुंचने से पूर्व ही निजी वाहनों से चारों को परतापुर चिकित्सालय पहुंचाया। बताया गया कि एम्बुलेंस चालकों की हड़ताल के चलते समय पर एम्बलेंस नहीं पहुंच पाई। चारों युवकों में से किसी ने भी हेलमेट नहीं पहन रखा था। अगर हेलमेट पहना होता जान भी बच सकती थी।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned