त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में वीआईपी लोगों के आने पर आमजन को नहीं होगी दिक्कत, मंदिर ट्रस्ट जल्द बनाएगा सख्त नियम

त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में वीआईपी लोगों के आने पर आमजन को नहीं होगी दिक्कत, मंदिर ट्रस्ट जल्द बनाएगा सख्त नियम
त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में वीआईपी लोगों के आने पर आमजन को नहीं होगी दिक्कत, मंदिर ट्रस्ट जल्द बनाएगा सख्त नियम

Varun Kumar Bhatt | Updated: 09 Oct 2019, 02:09:28 PM (IST) Banswara, Banswara, Rajasthan, India

Tripura Sundari Temple Banswara : त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में वीआईपी लोगों के आने पर आमजन को नहीं होगी दिक्कत, मंदिर ट्रस्ट जल्द बनाएगा सख्त नियम

बांसवाड़ा. प्रसिद्ध शक्तिपीठ त्रिपुरा सुंदरी मंदिर का ट्रस्ट मंडल वीआईपी के साथ आने वाले अमले से आम श्रद्धालुओं को होने वाली दिक्कतों को गंभीरता से लेकर निकट भविष्य में सख्त नियम बनाकर अमल कराएगा। ट्रस्ट की आम श्रद्धालुओं के लिए नाम मात्र की सहयोग राशि पर भोजन सुविधा बढ़ाने की भी योजना है। उज्जैन के महाकाल मंदिर में वीआईपी कल्चर खत्म करने की तर्ज पर यहां नवाचार होगा। ट्रस्ट अध्यक्ष दिनेशचंद्र पंचाल और महामंत्री राजेंद्र पंचाल ने पत्रिका से बातचीत में बताया कि इस बार नवरात्रि के मौके पर कुछ दिक्कतें अनुभव की गईं। हालांकि यहां वीआईपी कल्चर नहीं है, लेकिन अतिथि देवो भव की परंपरा के अनुसरण में विशिष्ट लोगों के आगमन पर पंचाल समाज व ट्रस्ट की ओर से सम्मान किया जाता रहा है। पिछले दिनों प्रदेश के राज्यपाल के आगमन पर कुछ अव्यवस्थाएं हो गईं। वीआईपी के आने पर आम श्रद्धालुओं को किसी की परेशानी नहीं हो, इसलिए ट्रस्ट की अगली बैठक में निर्णय कर ठोस कदम उठाए जाएंगे।

भोजनशाला बेहतर बनाई, अब सुविधा बढ़ाने पर जोर : - ट्रस्ट अध्यक्ष एवं महामंत्री पंचाल ने बताया कि मंदिर ट्रस्ट द्वारा यहां पाताभाई भोजनालय का सफलतापूर्वक संचालन किया जा रहा है। भोजनालय में नियमित रूप से 500 श्रद्धालुओं के लिए प्रबंध किए हुए हैं, जिसके लिए प्रति श्रद्धालु चालीस रुपए सहयोग राशि ली जा रही है। अब इसका विस्तार कर ट्रस्ट मंडल एक बड़ा फंड तैयार कर रहा है, जिससे सहयोग राशि आधी करते हुए श्रद्धालुओं की सुविधा बढ़ाने का मानस है। इस कदम के बाद मंडल निशुल्क सेवाओं के विस्तार पर भी फोकस करेगा।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned