बांसवाड़ा : बुजुर्ग पिता को बेटे ने पट्टे से इतनी बुरी तरह पीटा कि अस्पताल में करना पड़ा भर्ती, जिसने देखा वो रह गया दंग

घरेलू विवाद के चलते हुई घटना

By: Ashish vajpayee

Published: 25 Apr 2018, 01:48 PM IST

बांसवाड़ा. कोतवाली थाना इलाके के निचला घंटाला गांव में सोमवार को घरेलू विवाद के चलते एक बेटे ने अपने बुजुर्ग पिता को पट्टे से बुरी तरह पिटा। इससे घायल पिता जैसे-तैसे अपनी जान बचाकर भागा और अस्पताल में भर्ती हुआ। घायल निचला घंटाला निवासी हरीश (50) पुत्र गेबा ने बताया कि वह सूरापाड़ा स्थित अपने खेत में कार्य कर रहा था। तभी उसका बेटा विशाल खेत पर आया और वहां आते ही पहले तो झगड़ा करने लगा। कुछ देर में ही उसने बेल्ट का पट्टा उतारा और उससे मारपीट करने लग गया। इस पर जब हरीश चिल्लाया तो पास के खेतों में काम कर रहे लोग वहां दौडकऱ आए और उन्होंने बीच बचाव का प्रयास किया। विशाल जोर जबरदस्ती करता रहा। इसके बाद हरीश वहां से भाग निकला और एमजी अस्पताल पहुंचा और चिकित्सक से उपचार लिया। हरीश के पीठ एवं शरीर के अन्य हिस्सों में गंभीर चोट आई हैं। हरीश ने बताया कि बीते कुछ समय से घरेलू विवाद हो रहे हैं।

ठेकेदार की मनमर्जी पर कसेंगे नकेल
बांसवाड़ा. नगर परिषद क्षेत्र में आरयूआईडीपी की ओर से नालों के सुदृढ़ीकरण और मरम्मत कार्य में ठेकेदार की मनमर्जी और लोगों के परेशान होने के मामले में स्वायत्त शासन विभाग की क्षेत्रीय उप निदेशक प्रभा गौतम ने कहा है कि इस पर नकेल कसी जाएगी और मामले से जयपुर स्थित उच्चाधिकारियों को भी अवगत कराया जाएगा। उप निदेशक गौतम ने यह बात मंगलवार को बांसवाड़ा यात्रा के दौरान कही। मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तहत शहरी क्षेत्र में लालीवाव बावड़ी, वनेश्वर बावड़ी, वनेश्वर स्थित नाले और ऋषिकुंज स्थित नाले के कार्य का अवलोकन करने के बाद उन्होंने कहा कि बड़ा इश्यू गुणवत्ता का है। इसे लेकर सहायक अभियंता को जिम्मेदारी सौंपी है। स्थानीय अधिकारियों का जुड़ाव इस कार्य के साथ नहीं होने से समस्या आ रही है, जिसके निदान को लेकर उच्चाधिकारियों को अवगत कराएंगे।

स्टाफ की समस्या भी
इससे पहले नगर परिषद कार्यालय के विभिन्न प्रभागों का उप निदेशक ने निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि परिषद के बाद तकनीकी, लेखा सहित अन्य प्रभागों में स्टाफ की कमी है। इससे कार्य प्रभावित होना स्वाभाविक है। कुछ पदों पर कार्य एनजीओ के माध्यम से लगाए कार्मिकों से कराया जा रहा है। आवश्यक स्टाफ के लिए अधिकारियों को जानकारी देंगे। उन्होंने कहा कि ठोस कचरा प्रबंधन और कचरे से जैविक खाद बनाने वाले प्लांट को इसी वर्ष शुरू कराने पर भी चर्चा की है।

Show More
Ashish vajpayee
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned