बेटे के साथ मां जिंदा जली, दो मासूमों ने भागकर बचाई जान

बेटे के साथ मां जिंदा जली, दो मासूमों ने भागकर बचाई जान

kamlesh sharma | Publish: Jan, 14 2018 02:21:50 PM (IST) Banswara, Rajasthan, India

एक मां ने अपने तीन मासूमों के साथ केरोसिन उड़ेलकर आग के हवाले कर दिया।

बांसवाड़ा। जिले के सज्जनगढ़ थाना के म्यावट गांव में शुक्रवार को एक मां ने अपने तीन मासूमों के साथ केरोसिन उड़ेलकर आग के हवाले कर दिया। दो बच्चे तो जैसे-तैसे बाहर निकल आए, लेकिन मां और एक मासूम जलकर राख हो गए।

सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों की मदद से शवों को घर से बाहर निकाला और पोस्टमार्टम के लिए चिकित्सालय में रखवाया। आत्मदाह के कारण का पता नहीं चल सका है।

सज्जनगढ़ थाना प्रभारी प्रवीण सिंह ने बताया कि मियावट गांव के निवासी विनोद पुत्र सोमला चरपोटा की रिपोर्ट के मुताबिक घटना के समय घर पर उसकी पत्नी 35 वर्षीय बबीला, सबसे बड़ी लडक़ी सुगना, बड़ा बेटा भरत और सबसे छोटा बेटा गोविंद थे। वह दुकान से सामान लेने चला गया।

रास्ते में किसी से बात करते हुए उसने देखा घर की तरफ आग की लपटें उठ रही हैं। घर पहुंचा तो बड़ी बेटी 8 वर्षीय सुगना तथा पांच वर्षीय बेटा भरत रो रहे थे जबकि भीतर बबीला व गोविंद जलकर राख हो गए।

चार दिन पहले चोरी बच्चा झाडिय़ों में छोड़ गए, मां की गोद भरने को शिक्षिका चुराकर ले गई थी नवजात

भूसे और कपड़ों से आग हुई विकराल
घर में गेंहू के भूसे और कपड़ों में लगी आग की वजह से आग विकराल हो गई और घर में घुसना मुश्किल हो गया था। आग की लपटें आसमान छूने लग गई थी। इसके बाद जैसे तैसे छत को तोड़ा तोधुआं हटा और आग पर काबू पाया जा सका। इसके बाद भीतर जाकर देखा तो बबीला और गोविंद जलकर राख हो चुके थे।

कुंडी खोलकर निकले बाहर
बड़ी बच्ची सुगना ने पुलिस को बताया कि उसकी मां बबीला ने पहले तो खुद पर केरोसिन उड़ेला। इसके बाद तीनों बच्चों पर केरोसिन उड़ेल लिया और अगा लगाने लगी। इसमें वह स्वयं और उसका भाई भरत तो जैसे—तैसे दरवाजा खोलकर बाहर निकल गए, लेकिन बबीता और छोटा भाई गोविंद बाहर भीरत रह गए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned