बांसवाड़ा : एसटीएससी-एनएसयूआई गठबंधन ने परचम लहराया, विपक्षी दलों का सफाया, गेर खेलकर जीत का जश्न मनाया

बांसवाड़ा : एसटीएससी-एनएसयूआई गठबंधन ने परचम लहराया, विपक्षी दलों का सफाया, गेर खेलकर जीत का जश्न मनाया

Ashish vajpayee | Publish: Sep, 12 2018 11:59:57 AM (IST) Banswara, Rajasthan, India

बांसवाड़ा. छात्रसंघ चुनाव में जिले के चार राजकीय महाविद्यालयों में अनुसूचित जाति-जनजाति व एनएसयूआई गठबंधन ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद को चारों खाने चित्त करते हुए जीत का परचम लहराया।परिषद चारों महाविद्यालयों केसोलह पदों में से एकमात्र कुशलगढ़ में महासचिव का पद जीत पाई। शेष 15 पदों पर गठबंधन ने जीत दर्ज की। हरिदेव जोशी कन्या महाविद्यालय, एकलिंगनाथ संस्कृत कॉलेज गनोड़ा और कुशलगढ़ में गठबंधन ने अपना कब्जा बरकरार रखा वहीं गोविंद गुरु कॉलेज में गठबंधन विद्यार्थी परिषद को बेदखल कर काबिज हुआ है। इस तरह उसने विद्यार्थी परिषद का पूरी तरह से सफाया कर दिया। मतगणना के बाद परिणाम की घोषणा होते ही गठबंधन के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर छा गई। मतगणना केंद्र से बाहर निकलते ही विजयी प्रत्याशियों को फूलमालाओं से लाद दिया। जमकर ढोल बजाए गए और कार्यकर्ताओं ने थिरकते हुए गेर भी खेली। छात्रसंघ चुनाव के तहत मतदान गत 31 अगस्त को हुआ था। इससे पहले चारों महाविद्यालयों में सुबह ठीक 11 बजे मतगणना आरंभ हुई। प्रत्याशियों और उनके एजेंट्स की मौजूदगी में मतपेटियों की सील खोली गई। मतगणना केंद्रों के बाहर भारी पुलिस जाब्ता तैनात रहा।

हरिदेव जोशी कन्या महाविद्यालय
हरिदेव जोशी कन्या महाविद्यालय में गठबंधन ने चारों सीटों पर कब्जा किया। यहां कुल 1776 छात्राओं में से 1158 ने वोट डाले थे। मतदान प्रतिशत 65.20 रहा। 47 कक्षा प्रतिनिधियों में से तीन चंदा तेली, जिमिका पाटीदार और रवीना प्रजापत को निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया। शेष स्थान नामांकन के अभाव व निरस्त होने से रिक्त हैं। प्राचार्य डा. एनके जैन की उपस्थिति में निर्वाचन अधिकारी डा. सीमा भारद्वाज ने परिणाम की घोषणा की।

घर भेजने पर जताई आपत्ति
परिणाम की घोषणा के बाद गल्र्स कॉलेज में विजयी प्रत्याशियों को पुलिस ने अपने स्तर पर घर भेज दिया, जबकि संगठन के कार्यकर्ता उनका इंतजार कर रहे थे। कार्यकर्ताओं को जब प्रत्याशियों को घर भेजने की जानकारी मिली तो उन्होंने पुलिस के समक्ष आपत्ति जताई। बाद में कार्यकर्ताओं अरविंद डामोर, हरीश पंचाल, तपन मेघावत सहित अन्य ने संपर्क कर छात्राओं को दोबारा बुलवाया। उनके आने पर जीत का जश्न मनाया। जमकर नारेबाजी की और ढोल बजाकर गेर खेली।

गोविंद गुरु कॉलेज: कार्यकर्ताओं के बीच तनातनी, पुलिस ने खदेड़ा
गोविंद गुरु कॉलेज में चुनाव परिणाम घोषित होने के चंद मिनट पूर्व एनएसयूआई व एसटीएससी गठबंधन और एबीवीपी के कार्यकर्ता आमने-सामने आ गए। भारी पुलिस बल तैनात होने के कारण मौके पर लाठी फटकार स्थिति पर काबू पाया। लिंक रोड की ओर से ढोल के साथ नाचते गाते पहुंचे गठबंधन कार्यकर्ता कॉलेज गेट के बाहर पहुंचे। तभी कस्टम की ओर से एबीवीवी कार्यकर्ता भी मौके पर पहुंच गए। दोनों पक्षों के बीच कहासुनी हो गई और तनातनी का माहौल बन गया। पुलिस उपाधीक्षक घनश्याम शर्मा ने मोर्चा संभाला और जवानों को कार्यकर्ताओं को रोकने के निर्देश दिए। माहौल गर्माता देख जवानों ने कार्यकर्ताओं को दूर हटाने के लिए लाठी फटकारनी शुरू कर दी। इससे कार्यकर्ता तितर-बितर हो गए। कई कार्यकर्ता चप्पलें छोडकऱ भाग खड़े हुए।

बजे ढोल, समर्थक नाचे
परिणाम घोषित होने के पहले दोपहर से ही गठबंधन समर्थक कॉलेज मैदान में एकत्रित होकर नाचते-गाते रहे। परिणाम घोषित हो जाने के बाद विजेता प्रत्याशी कार्यकर्ताओं के साथ कॉलेज परिसर पहुंचे। जहां चारों विजेताओं ने कॉलेज परिसर में लगी गोविंद गुरु की प्रतिमा पर माल्यर्पण किया।

उत्साह बढ़ाने पहुंचे विधायक
गोविन्द गुरु कॉलेज में परिणाम घोषित हो जाने के बाद बागीदौरा विधायक महेंद्रजीतसिंह मालवीया कॉलेज ग्राउंड पहुंचे, जहां कार्यकर्ताओं ने फूलमाला पहनाकर स्वागत किया। गोद में उठाकर नारेबाजी की। उनके साथ प्रधान राजेश कटारा भी थे। 5 घंटे चली मतगणना के अनुसार अध्यक्ष पद के लिए कुल 4540 वैध मत प्राप्त हुए। उपाध्यक्ष पद के 4340, महासचिव पद के लिए 4314 और संयुक्त सचिव पद के लिए 4303 वैध मत पड़े।

मामा बालेश्वर दयाल स्नातकोतर महाविद्यालय कुशलगढ़
कुशलगढ़. मामा बालेश्वर दयाल स्नातकोतर महाविद्यालय में एसटीएससी-एनएसयूआई गठबंधन ने कब्जा बरकरार रखा। गठबंधन ने अध्यक्ष, उपाध्यक्ष व संयुक्त सचिव पद पर जीत हासिल की। वहीं महासचिव पद पर मात्र एक मत से जीत दर्ज कर प्रत्याशी ने अभाविप की लाज बचाई। कॉलेज में त्रिकोणीय मुकाबला था। गठबंधन, एबीवीपी के साथ ही भील प्रदेश विद्यार्थी मोर्चा ने उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था। अध्यक्ष पद पर गठबंधन के मनोहर डामोर, उपाध्यक्ष पद पर प्रेमसिह खडिय़ा, संयुक्त सचिव पद पर अरविन्द सुरावत चुने गए। महासचिव एबीवीपी की रेखा भाभोर निर्वाचित हुई। मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. लक्ष्मणलाल परमार ने बताया कि कुल 1845 मतदाताओं में से 1640 मतदाताओं ने मत डाले। कक्षा प्रतिनिधि में प्रथम वर्ष विज्ञान में विकास गरासिया को निर्विरोध चुना गया। परिणामों की घोषणा होतं ही गठबंधन कार्यकर्ता खुशी से झूम उठे और जश्न मनाया। समर्थकों ने विजेता उम्मीदवारों को फूलमालाओं से लाद दिया तथा कंधे पर बैठाकर पूर्व प्रधान के निवास तक ले गए।

एकलिंगनाथ संस्कृत कॉलेज गनोड़ा
गनोड़ा. एकलिंगनाथ संस्कृत कॉलेज गनोड़ा में एसटी/एससी गठबंधन ने फिर परचम लहराया। यहां लगातार पिछले कई वर्ष से एसटीएससी गठबंधन का ही पैनल जीतता आया है। जीत से कांग्रेस को जोश मिला है।एसटीएससी गठबंधन की जीत के बाद दो बार जुलूस निकाला गया। जिससे घाटोल कांग्रेस में गुटबाजी खुलकर सामने आ गई। सुबह से ही शंातिलाल कंठाव, देवीलाल सरोदिया, धूलजी चरपोटा, जिला परिषद सदस्य महावीरपुरी राठौड़, प्रभुलाल बामनपाड़ा, खोमजी भाई, धन्नालाल कलासुआ के नेतृत्व में कायकर्ता कॉलेज परिसर के समीप डटे रहे। परिणाम की घोषणा के बाद कार्यवाहक प्राचार्य शिव मिश्रा सहित पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में शपथ दिलाई। इसके बाद जैसे ही प्रत्याशी कॉलेज से बाहर आए, नेताओं ने उन्हें गले लगा लिया। इसके बाद जुलूस निकाला जो कॉलेज मैदान से हनुमान मंदिर पहुंचा। कुछ समय बाद पूर्व संसदीय सचिव नानालाल निनामा पहुंचे। निनामा के नेतृत्व में फिर से कस्बे में जुलूस निकला।

पाबंद कर छोड़ा
मतदान गणना के दौरान तहसील अध्यक्ष दिलीप खराड़ी एवं पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष धनपाल निनामा को कॉलेज परिसर के समीप उत्पात मचाने पर पुलिस थाने ले गई। मतगणना के बाद जीत का जश्न मनाने से पहले एसटीएससी छात्र नेता बीच सडक़ बैठ कर दोनों साथियों को छुड़ाने की मांग पर अड़ गए। पुलिस ने पांबद कर दोनों छात्र को छोड़ा। तब छात्रनेता सडक़ से हटे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned