जमीन विवाद में युवक को तलवार घोंपकर उतारा था मौत के घाट, हत्या के आरोपी दो भाइयों को उम्रकैद की सजा

- Banswara Crime News, Murder In Banswara

- युवक की हत्या के जुर्म में दो भाइयों को आजीवन कारावास की सजा
- एक आरोपी को आम्र्स एक्ट में भी तीन साल की सजा
- वर्ष 2016 में हुई थी युवक की हत्या, अपर सेशन न्यायालय का फैसला

By: Varun Bhatt

Published: 05 Sep 2019, 03:09 PM IST

बांसवाड़ा. जमीन विवाद में परिवार के सदस्य से मारपीट करते हुए जमीन पर पटकने के बाद तलवार घोंपकर मौत के घाट उतारने की वारदात के दो आरोपी भाइयों को अपर सेशन न्यायालय बांसवाड़ा ने बुधवार को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। साथ ही आम्र्स एक्ट में एक जने को तीन साल की सजा सुनाई है। आरोपी दानपुर थाना इलाके के धनपाल उर्फ धनिया पुत्र ऊंकार मईड़ा तथा उसका भाई कांति मईड़ा है।

Video : बेणेश्वर धाम पर नदी में मिला युवक का शव, इलाके में फैली सनसनी

यह था प्रकरण
प्रकरण के अनुसार वारदात 26 मार्च 2016 रात करीब दस बजे की है। टूटी सालर निवासी कसना पुत्र भाणजी मईड़ा पुलिस को सौंपी रिपोर्ट में बताया कि वह शम्भू पुत्र नाथू मईड़ा के घर बीड़ी पीने के लिए गया था। इससे पहले ऐलाश पुत्र भाणजी मईड़ा भी वहां बैठा हुआ था। तभी धनपाल उर्फ धनिया व उसका छोटा भाई कांति आए और ऐलाश से गाली गलौच करते मारपीट करना शुरू कर दिया। इससे ऐलाश नीचे गिर पड़ा। इसके बाद धनिया ने ऐलाश को पकड़ा और कांति ने तलवार घोंप दी। इस शोर शराबे एवं चिल्लाने की आवाज पर अन्य लोग मौके पर दौडकऱ आए और उन्होंने ऐलाश को संभाला तो इसके कुछ देर में ही ऐलाश ने दम तोड़ दिया। इसके बाद आरोपी मौके से फरार हो गए।

जायदाद के खातिर 10 साल के बच्चे को उतार दिया मौत के घाट, आरोपी पिता-पुत्र पुलिस रिमांड पर

23 गवाह और चश्मदीद के आधार पर फैसला
बांसवाड़ा अपर सेशन न्यायालय के पीठासीन अधिकारी कुलदीप सूत्रकार ने पत्रावलियों का अवलोकन करने, करीब 23 गवाहों को सुनने तथा चश्मदीदों के बयानों के आधार पर आरोपी धनपाल उर्फ धनिया पुत्र ऊंकार मईड़ा तथा उसके भाई कांति मईड़ा को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। साथ ही दोनों पर दस-दस हजार का जुर्माना भी लगाया है। इसके साथ ही आरोपी कांति को आम्र्स एक्ट में भी दोषी मानते हुए उसे तीन साल के कारावास व एक हजार रुपए के जुर्माने से भी दण्डित किया है। प्रकरण के अनुसार ऐलाश एवं आरोपियों की जमीन का खाता शामलाती है। रिकॉर्ड में नाम पहले धनिया व कांति का आता है। वे सारी जमीन के मालिक बनना चाहते थे। इस विवाद की वजह से धनिया एवं कांति ने ऐलाश को मौत के घाट उतार दिया।

Show More
Varun Bhatt
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned