Video : बांसवाड़ा : कुछ युवाओं के जतन से हजारों युवाओं को मिला जीवन जीने का मूलमंत्र

Ashish vajpayee

Publish: Sep, 17 2017 05:38:14 (IST)

Banswara, Rajasthan, India
Video : बांसवाड़ा : कुछ युवाओं के जतन से हजारों युवाओं को मिला जीवन जीने का मूलमंत्र

बड़ोदिया कस्बे में त्रिमेस समाज युवा सम्मेलन में युवाओं ने जाना भले-बुरे का अंतर, समाज के ही कुछ युवाओं की पहल पर हुआ कार्यक्रम का आयोजन

बांसवाड़ा. बड़ोदिया. समाज के युवाओं को नई दिशा देने और उन्हें कॅरिअर के साथ सामाजिक धाराओं से जोडऩे के उद्देश्य से श्री त्रिवेदी मेवाड़ा समाज के कुछ युवाओं की पहल ने रविवार को मूर्त रूप लिया। समाज के कुछ युवाओं के द्वारा पूरे समाज के युवाओं सामाजिक एवं जीवन की कठिनाईयों का समाना करने एवं बुराइयों से दूर कर नई ऊर्जा भरने के उद्देश्य के तहत रविवार को बड़ोदिया कस्बे में युवा सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसके तहत युवाओं को कॅरिअर, सामाजिक व्यवस्थाओं से जुडऩे और समाजिक बुराइयों से दूर रहने की सीख दी गई। सम्मलेन में कई अतिथियों ने समाज के युवाओं को मार्गदर्शित किया और जीवन में बेहतर करने के गुर सिखाए। ताकि वे जीवन के हर मोड़ पर एक सफल व्यक्ति के रूप में स्वयं को साबित कर सकें।

आजकल बच्चों से ज़्यादा मार्गदर्शन की अभिभावकों को जरूरत है, क्योंकि वह अपनी अभिलाषा बच्चों पर थोप कर उनका मानसिक बोझ बढ़ा रहे हैं। ऐसा करने से वह बच्चों की जो प्राकृतिक गुणों को दबा रहे हैं। यह विचार बड़ोदिया में आयोजित श्रीत्रिवेदी मेवाड़ा ब्राह्मण समाज युवा प्रकोष्ठ के तत्वावधान में पथोक स्तरिय युवा सम्मेलन में युवाओ को संबोधित करते हुए सेवानिवृत्त एडीएम टीआर जोशी ने व्यक्त किये।
सम्मेलन में बड़ोदिया सहित ठीकरिया, सुवानिया, नयागांव, छींच, बांसवाड़ा, बांसल, नौगामा, पिण्डारमा, बोड़ीगामा सहित जिले के विभिन्न गावों से सैकड़ो की संख्या में 14 वर्ष से अधिक आय के युवाओं ने भाग लिया। युवाओं में कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पथोक चोखरा के अध्यक्ष परमेश्वर पंड्या, अध्यक्ष पुरषोत्तम शुक्ला तथा विशिष्ट अतिथि सेवानिवृत्त एडीएम टीआर जोशी, सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य देवीलाल पानेरी, प्रधानाचार्य प्रकाश पंड्या, नारायण लाल भट्ट रहे।
ाम्मेलन के प्रारंभ में युवा प्रकोष्ठ के संयोजक पवन जोशी और अशोक शुक्ला ने अतिथियों का परिचय एवं स्वागत किया।


कल्पेश ठाकुर ने चीनी सामग्री बहिष्कार कर स्वदेशी उत्पाद का उपयोग करना बताया। साथ ही जापान के लोगों की देशभक्ति का उदाहरण देते हुए युवाओं में देश के प्रति समर्पित भाव पैदा करने को कहा। नारायणलाल भट्ट ने जीवन में सफलता के लिए समर्पण और समय की महत्ता को अनिवार्य बताया।


प्रधानाचार्य प्रकाश पंड्या ने कहा कि कहा कि तंबाकू उत्पादों ने समाज का बहुत बड़ा नुकसान किया है इससे वह भीतर से खोखले होते जा रहे हैं। इसलिए इसका त्याग करना अनिवार्य है। साथ ही उन्होंने कहा कि समाज के युवाओं में कुछ नही और कही नही का भाव न होकर अपने उद्देश्यों को आनंद पूर्वक प्राप्त करने का भाव होना चाहिए।
पथोक अध्यक्ष परमेश्वर पंड्या ने इस सम्मेलन को ऐतिहासिक बताया और बताया कि इस प्रकार के सम्मेलन होना हर समाज के लिए आवश्यक है।

जिससे देश के युवाओं में सकारात्मक ऊर्जा का संचालन हो। कार्यक्रम में देवीलाल पानेरी, पुरुषोत्तम शुक्ला सहित अनेक वक्ताओं ने अपने संबोधन में युवाओ को देश और समाज के प्रति जागृत किया। सम्मेलन को सफल बनाने में मोहनलाल जोशी, राजेश शुक्ला, नरेंद्र पानेरी, महेश पानेरी, लक्ष्मीनारायन जोशी, जगदीश ठाकुर व परशुराम मंडल सहित समाज के अनेक युवाओ ने सहयोग किया। कार्यक्रम का संचालन अशोक शुक्ला तथा आभार आशीष उपाध्याय ने व्यक्त किया। कार्यक्रम में पथोक चोखरा कार्यकारिणी सदस्य महेश जोशी, विश्वेश्वर जोशी, भवानीशंकर पंड्या, हरेंद्र ठाकुर, लक्ष्मीनारायन पानेरी, हरिशंकर ठाकुर आदि का स्वागत किया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned