बांसवाड़ा : मकान बनाने के लिए पत्थर तोड़ते समय बारूद फटा, दर्दनाक हादसे में युवक के दोनों हाथों की अंगुलियां उड़ी और...

बांसवाड़ा : मकान बनाने के लिए पत्थर तोड़ते समय बारूद फटा, दर्दनाक हादसे में युवक के दोनों हाथों की अंगुलियां उड़ी और...

deendayal sharma | Publish: May, 24 2019 03:31:54 PM (IST) Banswara, Banswara, Rajasthan, India

हालत गंभीर होने पर उदयपुर रैफर किया

बांसवाड़ा. जिले के कुहाला डूंगरी में गुरुवार को मकान बनाने के लिए पत्थर तोड़ते समय बारूद फटने और पत्थर गिरने से युवक गंभीर घायल हो गया। उसके दोनों हाथ जख्मी हो गए। दांये हाथ की सभी अंगुलियां उड़ गई और बांये हाथ में सिर्फ दो अंगुलियां बची हैं। उसे महात्मा गांधी अस्पताल ले जाया गया , जहां से हालत गंभीर होने पर उसे उदयपुर रैफर कर दिया गया। अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉ. दिनेश ने बताया कि कोहाला निवासी 24 वर्षीय कालू पुत्र फुलिया के हाथ की हालत गंभीर थी इसलिए उपचार के बाद उसे तुरंत उदयपुर रैफर किया ताकि बेहतर उपचार मिल सकें।

बांसवाड़ा : भूंगड़ा में विजय जुलूस के दौरान पटाखे छोडऩे पर विवाद, पुलिस के दखल ने सुलटा मामला

अचानक फटा बारूद
घायल के चचेरे भाई राजेश ने बताया कि कालू मकान बनाने के लिए पत्थर निकालने गया था। उसके खेत में पत्थरों का टीला है। जिसे तोडऩे की फिराक में था। कालू का कहना था कि खेत के पत्थर तोडऩे से मकान बनाने के लिए भी पत्थर मिल जाएगा और खेत से भी पत्थर हट जाएगा। ऐसा करने से परिजनों ने रोका लेकिन वह पत्थर तोडऩे के लिए गुरुवार तकरीबन 11 बजे चला गया। राजेश ने बताया कि कालू ने पत्थर तोडऩे के लिए बारूद लगाया और लेकिन उसे सही तरह से रख नहीं पाया। बारुद फटने ही वाला था और उसने हाथ लगा दिया। ऐसे उसके हाथ के पास ही बारुद फट गया और पत्थर उसके हाथों पर आ गिरे। इससे उसे दोहरी चोट लगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned