बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष का पंचायत इलेक्शन को लेकर बड़ा ऐलान, कहा- ये नेता नहीं लड़ सकेंगे चुनाव

बाराबंकी के दौलतपुर गांव निवासी पद्मश्री किसान रामसरन वर्मा की उन्नत खेती देखने भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह और प्रदेश सरकार के कृषि मन्त्री सूर्यप्रताप शाही पहुंचे।

बाराबंकी. पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राधामोहन सिंह बाराबंकी पहुंचे। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को किसानों का सबसे बड़ा हितचिंतक बताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री का सपना है कि गांव मजबूत हो और गांव का गरीव मजबूत हो। गांव को मजबूत करने के लिए केन्द्र सरकार से बड़ी धनराशि भी दे रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का मानना है कि गांव मजबूत होगा तो देश मजबूत होगा। उन्होंने कहा कि जिन कार्यकर्ताओं को पंचायत चुनाव की जिम्मेदारी सौंपी गई है वे कार्यकर्ता पंचायत चुनाव नही लड़ सकते हैं। राधामोहन सिंह के साथ आये प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने किसानों से आग्रह किया कि जिस तरह भारत सरकार सर्वोच्च न्यायालय की बात मान रही है, वह भी न्यायालय का सम्मान करें।

गांव को मजबूत करना पीएम मोदी का मकसद

बाराबंकी के दौलतपुर गांव निवासी पद्मश्री किसान रामसरन वर्मा की उन्नत खेती देखने भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह और प्रदेश सरकार के कृषि मन्त्री सूर्यप्रताप शाही पहुंचे। रामसरन वर्मा की खेती देखकर दोनों काफी प्रभावित हुए। इस दौरान राधामोहन सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किसानों और गांवों के लिए किए जा रहे कामों को काफि हितकारी बताया। राधामोहन सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री का सपना है कि किसान मजबूत हो, गांव मजबूत हो और गांव का गरीब मजबूत हो। इस दिशा में काम करने के लिए प्रधानमंत्री केन्द्र से बड़ी धनराशि भी भेज रहे हैं, ताकि गांव के साथ देश भी मजबूत हो। राधामोहन सिंह ने कहा कि गांव का गरीब जानता है कि उन्होंने जो नेतृत्व चुना है, वह सर्वश्रेष्ठ है।

गांव को मिले कुशल नेतृत्व

राधामोहन सिंह ने कहा कि मोदी जी और भारतीय जनता पार्टी दोनो चाहते हैं कि गांव में भी कुशल नेतृत्व मिले और गांव में जो चुनकर आये वह अच्छा नेतृत्व करें। इसी उद्देश्य के साथ कार्यकर्ताओं के साथ बैठकें भी हो रही हैं। उन्होंने कहा कि जिन कार्यकर्ताओं को पंचायत चुनाव की जिम्मेदारी सौंपी गई है वे कार्यकर्ता पंचायत चुनाव नही लड़ सकते हैं। ब्लॉक संयोजको को उन्होने समन्वय स्थापित करके स्थानीय समीकरण एवं प्रत्याशी चयन में बेहद सतर्कता बरतने का निर्देश दिया।

सभी मानें सर्वोच्च न्यायलय की बात

वहीं कृषि कानून के विरोध में किसानों को कोर्ट द्वारा दिये गए निर्देशों पर उत्तर प्रदेश सरकार के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय ने जो निर्देश दिए है उन्हें सभी को मानना चाहिए। भारत सरकार माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों का सम्मान करती है और सभी को उनका सम्मान करना चाहिए।

यह भी पढ़ें: मौसम विभाग ने जारी की यूपी में बारिश की चेतावनी, पड़ेगी कड़ाके की ठंड, शीतलहर और घने कोहरे का अलर्ट

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned