सपा नेता आजम खान के समर्थन में उतरी कांग्रेस, आया बहुत बड़ा बयान

कांग्रेस ने सपा नेता आजम खान का समर्थन करते हुए कहा कि जो भी भाजपा के खिलाफ बोलता है सरकार उसी को टारगेट पर ले लेती है...

बाराबंकी. कांग्रेस ने एक बार फिर मंदी को लेकर केंद्र सरकार पर जोरदार निशाना साधा है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद पीएल पुनिया ने कहा कि जब डॉक्टर मनमोहन सिंह देश के प्रधानमंत्री थे उस समय दूसरे कई देशों की इकॉनोमी ध्वस्त हो गई थी, बैंक फेल हो गए लेकिन हिंदुस्तान पर इसका जरा भी असर नहीं पड़ा। लेकिन भाजपा का एजेंडा आर्थिक मंदी को रोकने का नहीं है, यह लोग केवल राजनीति करना चाहते हैं। देश के सामने जो समस्या है उसके बारे में न तो भाजपा सरकार को जानकारी है और न ही इनके पास उसका कोई समाधान है। यह लोग बस अपनी राजनीति चमकाना जानते हैं।


आजम भुगत रहे खिलाफत का खामियाजा

पुनिया ने सपा नेता आजम खान का समर्थन करते हुए कहा कि जो भी भाजपा के खिलाफ बोलता है सरकार उसी को टारगेट पर ले लेती है। उनको जेल भेजा जाता है। उनपर मुकदमे करवाए जा रहे हैं। परिवार वालों को परेशान किया जा रहा है। पुनिया ने कहा कि कांग्रेस नेता शिवकुमार और उनकी 22 साल की बेटी को ईडी ने पूछताछ के लिये बुलाया है। चिदंबरम को जबरन जेल में बंद किया है। आजम खान भी इसी का खामियाजा भुगत रहे हैं। उनके खिलाफ भी कई मुकदमे करवाए गए। पुनिया ने आजम खान का समर्थन करते हुए कहा कि उन्होंने अपने घर के लिये कोई संपति नहीं बनाई। जो भी किया यूनिवर्सिटी के लिये किया। पुनिया ने कहा कि हो सकता है यूनिवर्सिटी में कुछ अनियमितताएं हो, लेकिन उसका समाधान किया जा सकता है। न कि इसके लिये आजम खान पर मुकदमे करवाकर उन्हें जेल भिजवाने की तैयारी करनी चाहिये।


मेधावियों को दिया गया सम्मान

दरअसल कांग्रेस के राज्यसभा सांसद पीएल पुनिया आज राजीव गांधी सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले मेधावियों को सम्मानित कर रहे थे। यह प्रतियोगिता 1 सितंबर को हुई थी जिसमें बेहतर प्रदर्शन करने वाले 60 मेधावियों को पुरस्कार देकर आज सम्मानित किया गया। मेधावियों को प्रथम पुरस्कार में लैपटॉप, दूसरा पुरस्कार में आईपैड और तृतीय पुरस्कार में साइकिल छात्र छात्राओं को दी गयी। पीएल पुनिया ने कहा कि इस प्रतियोगिता का उद्देश्य छात्र छात्राओं को इतिहास के प्रति जागरूक करना और स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान से रूबरू कराना था।

Show More
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned