मायानगरी छोड़ बाराबंकी वापस आए फिल्म निर्देशक, बनाएंगे 'द क्रेजी रोमांस'

कानून तोड़ने वाले युवाओं पर आधारित फिल्म 'रेड सिग्नल' अभी लॉन्च भी नहीं हुयी थी कि उन्होंने 8 करोड़ रुपयों की लागत से बनने वाली फिल्म 'द क्रेजी रोमांस' की घोषणा कर दी.1

By: Abhishek Gupta

Published: 14 Sep 2016, 11:11 PM IST

बाराबंकी. शहरों से फिर गाँव की तरफ वापिस लौट अपने देवा महादेवा की ऐतिहासिक धरती पर फिल्म ''रेड सिग्नल'' के बाद फिल्म ''द क्रेजी रोमांस'' की शूटिंग की तैयारी में फिल्म निर्माता व निर्देशक विजय वर्मा लगे हुए हैं। कानून तोड़ने वाले युवाओं पर आधारित फिल्म 'रेड सिग्नल' अभी लॉन्च भी नहीं हुयी थी कि उन्होंने 8 करोड़ रुपयों की लागत से बनने वाली फिल्म 'द क्रेजी रोमांस' की घोषणा कर दी और उन्होंने लगे हाथों उसका शुभ मुहूर्त भी करवा दिया।

दरअसल बाराबंकी के एक छोटे से गाँव से निकलकर मुम्बई जैसे फ़िल्मी दुनिया से वापिस अपने गाँव लौट उन्होंने यूपी के अलग-अलग शहरों में बेहतर से बेहतर फिल्मे बनाने का ऐलान किया है। 'द क्रेजी रोमांस' के शुभ मुहूर्त के मौके पर बताया कि गाँव के लोगों को फिल्मों में जगह मिले इसलिए उन्होंने अपने गृह जनपद को फिर से चुना है। उनका कहना है फिल्म में वो चाहते हैं नए चेहरों को भी एक बार अभिनय करने का मौक़ा मिले।

उन्होंने बताया उनकी फिल्म रेड सिग्नल इसी वर्ष दिसंबर महीने में रिलीज होने जा रही है। जिसका प्रोमो भी जारी हो चुका है। उनकी दूसरी फिल्म ''द क्रेजी रोमांस'' एक ऐसे युवक पर आधारित है जो अपनी मोहब्बत को पाने के लिए कुछ भी करने को तैयार हो जाता है। बाराबंकी लखनऊ सीमा स्थित गोल्डन ब्लासम में आयोजित द क्रेजी रोमांस के शुभ मुहूर्त के मौके पर फिल्म की गायिका अमीका शैल व फिल्म की हेरोइन गहना वशिष्ठ भी मौजूद रहीं।

मुम्बई के मशहूर अभिनेता अखिलेन्द्र मिश्रा जिन्होंने सरफरोश, रेडी, गंगाजल, द लेजेंड आफ भगत सिंह में सशक्त भूमिका निभाई है, मीडिया से बातचीत करने के दौरान फिल्म निर्माताओं पर एक सवालिया निशान लगाते हुए गंभीर आरोप भी लगाए है कि आज वो फिल्मे लोग बनाना पसंद करते हैं जिन्हे आप परिवार के साथ एक साथ बैठकर नहीं देख सकते। उन्होंने हाल ही में तड़क भड़क गानों पर भी अपनी चिंता जताई है। उन्होंने कहा आजकल जो फिल्मों के गाने हैं उनमें रस नहीं और उन्हें शायद आज कोई ख़ास याद नहीं रखता, लेकिन आज भी जो पुरानी फिल्में और उनके गाने हैं उन्हें हमारा समाज बार-बार देखना और उन गानों को सुनना पसंद करता है।

बॉलीवुड की अश्लीलता भरी फिल्मों पर आपत्ती जताते हुए अखिलेन्द्र मिश्रा ने कहा है वो दिन दूर नहीं जब हमारे आगे आने वाली युवा पीढी अपने देश की संस्कृति और कल्चर को भूल सिर्फ विदेशों के संस्कृति और कल्चर में जिंदगी जीने को मजबूर हो जाएगी क्योकि वो बीज आज फिल्मों में बो दिया गया है।


जानकारी देते हुए चले की फिल्म के निर्माता और निर्देशक बिजय वर्मा बाराबंकी जिले के थाना मसौली अन्तर्गत बेहटा गाँव के ही मूलतया निवासी है जिन्होंने मुम्बई जैसे शहर में अपनी मजबूत पकड़ बना चुके है!  फिल्म दे दना दन , विवाह , प्रेम रतन धन पायो ,सरफरोश सहित 110 से अधिक बॉलीवुड फिल्मो में अभिनय कर चुके मनोज जोशी व  अवी कश्यप ,के अलावा तमाम वो चेहरे इस फिल्म में नजर आएंगे जिन्होंने फ़िल्मी दुनिया में अपना बहुत नाम कमा चुके है ! बिजय वर्मा ने जानकारी ये भी दी है की वो चाहते है काम बजट में अच्छी फिल्म तैयार ही उनकी रेड सिग्नल करीब साढ़े तीन करोड़ रुपयों की लगत से तैयार हो रही है जो दिसंबर महीने में सिनेमाघरो में लग जाएगी !
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned