कोरोना से बचाव के तरीकों को समझाने खुद सड़कों पर उतरे डीएम, गलत तरीके से मास्क लगाने वालों को ऐसे समझाया

बाराबंकी के जिलाधिकारी डा. आदर्श सिंह सड़कों पर खुद उतरे और लोगों को मास्क की आवश्यकता के बारे में जागरूक किया।

बाराबंकी. कोरोना महामारी की दूसरी लहर ने पूरे देश में हड़कम्प मचा रखा है। इस महामारी से बाराबंकी भी अछूता नहीं है और यहां भी हर रोज सैकड़ों की संख्या में कोरोना के मरीज सामने आ रहे हैं। सरकार ने भी मास्क की जरूरत को समझाते हुए लोगों को मास्क का उपयोग करने, शारीरिक दूरी बनाये रखने और भीड़भाड़ के क्षेत्रों में न जाने की अपील की, लेकिन कुछ ऐसे लापरवाह लोग भी हैं, जिन्होंने इस संक्रमण काल में भी इसे मजाक बना कर रखा हुआ है। ऐसे लोगों को जागरूक करने के लिए बाराबंकी के जिलाधिकारी डा. आदर्श सिंह सड़कों पर खुद उतरे और लोगों को मास्क की आवश्यकता के बारे में जागरूक किया।

डीएम ने चलाया अभियान

बगैर मास्क लगाए सड़कों पर घूमते हुए लोगों के खिलाफ बाराबंकी के जिलाधिकारी डॉक्टर आदर्श सिंह ने खुद अभियान चलाया। वह नगर के सबसे व्यस्ततम पटेल तिराहे पर पहुंचे और बिना मास्क के जा रहे लोगों को रोककर उन्हें मास्क लगाने और मास्क के लिए दंडित किये जाने की बात कही। जिलाधिकारी ने कहा कि हर व्यक्ति के पीछे पुलिस या प्रशासन के लोग नहीं लगाए जा सकते। लोगों को इसके लिए खुद जागरूक होना पड़ेगा, तभी महामारी के खिलाफ इस लड़ाई को हम जीत सकेंगे।

सभी सही ढंग से लगाएं मास्क- डीएम

जिलाधिकारी डॉक्टर आदर्श सिंह ने कहा कि लोगों को समझाया जा रहा है कि वह मास्क का उपयोग करें और मास्क लगाते समय नाक और मुंह दोनो ढकें। हर व्यक्ति मिलकर जब कोरोना के विरुद्ध यह लड़ाई लड़ेगा तो हम यह लड़ाई जीत सकेंगे। लोगों पर सख्ती या दण्ड ही आवश्यक नहीं है, बल्कि लोगों को स्वयं भी जागरूक होना पड़ेगा।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned