क्राइम ब्रांच की फर्जी महिला अधिकारी का ऑडियो वायरल, थानेदार को भी दिखाई धौंस

क्राइम ब्रांच की फर्जी महिला अधिकारी का ऑडियो वायरल, थानेदार को भी दिखाई धौंस

Nitin Srivastva | Publish: Sep, 09 2018 02:55:02 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

मामला बाराबंकी जिले के असन्द्रा थाना क्षेत्र का है...

बाराबंकी. उत्तर प्रदेश के जिला बाराबंकी में एक कॉलेज प्रबंधक के पास महिला का फोन आता है और वह खुद को क्राइम ब्रांच दिल्ली का अधिकारी बताती है। महिला फोन कॉल के दौरान एक थानेदार को भी लाइन पर लेती है और उसे जबरन थाने घसिटवाने की धमकी देते हुए धौंस दिखाती है। कॉलेज प्रबंधक को जब उसकी बातों से एहसास होता है कि ये महिला फर्जी है और उसे किसी साजिश का शिकार बनाया जा रहा है, तो वह उस कॉल को रिकॉर्ड करकर एसपी ऑफिस पहुंचता है और अपनी आपबीती बताते हुए पुलिस महकमे से मदद की गुहार लगाई है।

 

 

 

बातचीत का ऑडियो वायरल

मामला बाराबंकी जिले के असन्द्रा थाना क्षेत्र का है। जहां क्राइम ब्रांच की एक फर्जी महिला अधिकारी और कॉलेज के प्रबंधक के बीच फोन पर धमकी भरी बातचीत का एक ऑडियो वायरल हो रहा है। ऑडियो में कॉल के दौरान कांफ्रेंस पर असन्द्रा थाने के एसओ धीरेन्द्र कुमार वर्मा की भी आवाज आ रही है। महिला प्रबंधक को फोन पर धमकाते हुए थाने आने की बात कह रही है और एसओ पर भी कार्रवाई का दबाव बना रही है। अब इस पूरे मामले के संज्ञान में आने पर बाराबंकी पुलिस के आलाअधिकारियों में हड़कंप मचा है और वह इसकी जांच करवाकर कार्रवाई की बात कर रहे हैं।

 

मुझे बदनाम करने की साजिश

प्रबंधक आलोक पांडेय का कहना है कि उनके रामखेलावन महाविद्यालय के आसपास राजनीति से जुड़े कुछ लोगों के भी कॉलेज हैं। आलोक पांडेय के मुताबिक वह लोग उनके महाविद्यालय को बदनाम करने के लिए लगातार साजिश कर रहे हैं। आलोक पांडेय का आरोप है कि बीते दिनों शिवानी राव नाम की एक महिला का उनके पास फोन आया और उसने खुद को क्राइम ब्रांच का अधिकारी बताया। महिला ने फोन कॉल के दौरान असन्द्रा थाने के एसओ धीरेंद्र कुमार वर्मा को भी कांफ्रेंस पर ले रखा था और दोनों जेल भेजने की धमकी देने लगे। शिवानी रॉय ने धमकाते हुए कहा कि तू लखनऊ भाग जा या नेपाल,मैं तुझे थाने तक घसीटते ले आऊंगी। कॉल के दौरान असन्द्रा थाने के एसपी धीरेंद्र कुमार वर्मा भी उसे धमकाते हुए थाने आने के लिए कह रहे थे। प्रबंधक ने बताया कि जब उन्होंने कहा कि वह लखनऊ में हैं तो दोनों ने मुझसे कहा कि चुपचाप थाने चले आओ, नहीं तो घसीटते हुए लेकर आएंगे। अलोक पांडेय ने बताया कि उसके विरोधी उसे अक्सर झूठे मामले में फंसाने का काम करते हैं और इससे पहले भी एक महिला के चक्कर में झूठे मामले में फंसा रहे थे।

 

एसओ ने आरोपों से किया इनकार

वहीं एसओ धीरेन्द्र कुमार वर्मा ने अपने ऊपर लगे आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि जब फर्जी महिला अधिकारी का फोन उनके पास आया तो पहले से कॉन्फ्रेंस पर कॉलेज का प्रबंधक अलोक पांडेय था। धीरेन्द्र ने बताया कि वह किसी जुलूस में थे तभी उस महिला का फोन उनके पास आया, इसलिए वह पूरा मामला समझ नहीं पाए। धीरेन्द्र के मुताबिक मामले की जांच चल रही है और बहुत जल्द मामले का खुलासा होगा।

 

जांच के बाद होगी कार्रवाई

वहीं इस मामले पर बाराबंकी के अपर पुलिस अधीक्षक दिगंबर कुशवाहा ने बताया कि बाराबंकी के असन्द्रा थाना क्षेत्र के रामखेलावन महाविद्यालय से यह पूरा मामला मेरे संज्ञान में आया है। महाविद्यालय के प्रबंधक आलोक पांडेय ने शिकायत की है कि उनके पास शिवानी राव नाम की एक महिला का धमकी भरा फोन आया है। अलोक कुमार के मुताबिक फोन कॉल के दौरान असन्द्रा एसओ धीरेंद्र कुमार वर्मा ने भी उन्हें जबरन थाने आने के लिए मजबूर किया। कुशवाहा ने बताया कि अलोक पांडेय ने फोन रिकॉर्डिंग और कई दूसरे सबूत भी हमें दिए हैं। उन्होंने बताया कि इस पूरे मामले की जांच रामसनेहीघाट के सीओ को सौंप दी गई है। इस मामले में जो भी दोषी निकलेगा, उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned