यूपी के बाद ही महाराष्ट्र और पंजाब में माफ हुआ किसानों का कर्ज: सूर्य प्रताप शाही

यूपी के बाद ही महाराष्ट्र और पंजाब में माफ हुआ किसानों का कर्ज: सूर्य प्रताप शाही
Agriculture Minister Surya Pratap Shahi

Shatrudhan Gupta | Updated: 09 Oct 2017, 10:23:21 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

प्रदेश के कृषि मंत्री ने विभिन्न प्रदेशों में हुई किसानों की कर्जमाफी का श्रेय योगी आदित्यनाथ की सरकार को दिया।

बाराबंकी. उत्तर प्रदेश के किसानों को अगर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने ऋण मोचन योजना की सौगात न दी होती तो पंजाब और हरियाणा सहित विभिन्न प्रदेशों के किसानों को कर्जमाफी का लाभ नहीं मिल पाता। यह बात हम नहीं कह रहे, बल्कि उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता सूर्य प्रताप शाही ने कही। मंत्री सूर्य प्रताप शाही सोमवार को देवा मेला के परिसर में आयोजित किसान मेला कार्यक्रम में किसानों को ऋण मोचन का प्रमाणपत्र देने आए हुए थे। प्रदेश के कृषि मंत्री ने विभिन्न प्रदेशों में हुई किसानों की कर्जमाफी का श्रेय योगी आदित्यनाथ की सरकार को दिया।

केंद्र सरकार के साथ किसानों के प्रति पूरी संवेदनशील

बाराबंकी के ऐतिहासिक देवा मेला परिसर में सोमवार को किसानों के ऋण मोचन प्रमाण पत्र देने उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही आए हुए थे। इस दौरान कृषि मंत्री ने योगी आदित्यनाथ सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि यह सरकार केंद्र सरकार के साथ किसानों के प्रति पूरी संवेदनशील है। किसानों की आय बढ़ाने और उनकी भलाई के लिए ऐतिहासिक कार्य कर रही है।

किसी भी किसान को निराश होने की जरूरत नहीं

मंच से बोलते हुए कृषिमंत्री ने पूरे देश मे विभिन्न प्रदेशों की सरकारों द्वारा किसानों को कर्जमाफी के निर्णय का श्रेय अपनी सरकार को देते हुए कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ की सरकार ने किसानों के ऋणमोचन का निर्णय न लिया होता तो महाराष्ट्र और पंजाब सरीखे प्रदेशों के किसानों को कर्जमाफी की सौगात नही मिल पाती। हमने शुरुआत की तब जाकर अन्य प्रदेशों से आवाजें उठी और फिर किसानों को कर्जमाफी का लाभ मिला। इतना कहकर कृषि मंत्री ने जनता से इसकी हामी भी भरवाई। कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि अभी ऋण मोचन का तीसरा चरण शुरू हुआ है। कोई भी किसान इस लाभ से वंचित नही रहेगा। किसी भी किसान को निराश होने की जरूरत नही है। सरकार ने उनका बोझ अपने कन्धे पर उठाया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned