फास्टटैग की अनिवार्यता के लिए सरकार हुई सख्त, देखें वीडियो

अगर कोई बिना फास्टटैग के आता है तो उसे दोगुना टैक्स देना होगा।

By: नितिन श्रीवास्तव

Published: 17 Feb 2021, 12:51 PM IST

Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

बाराबंकी. फास्टटैग लगवाने के लिए सरकार वाहन मालिकों से लगभग एक साल से अनुरोध कर रही है। मगर इतना समय बीतने के बाद भी बिना फास्टटैग वाले वाहनों की लम्बी फेहरिस्त है। फास्टटैग को अनिवार्य करने के लिए सरकार ने सभी टोल प्लाजा पर कैश की व्यवस्था समाप्त कर दी है और इसके लिए आर्थिक दण्ड का भी प्रावधान किया है ताकि लोग फास्टटैग बनवाने के प्रति गम्भीरता से विचार करें। बाराबंकी जनपद के शहावपुर टोलप्लाजा से प्रतिदिन हजारों वाहनों का आवागमन होता है। टोल कर्मियों की अगर मानें तो लगभग 35 प्रतिशत वाहन जिन पर फास्टटैग नहीं है। वह कैश लेन से गुजरते थे, लेकिन अब से बिना फास्टटैग के ऐसे वाहनो का गुजरना बन्द हो गया, क्योंकि कैश लेन की व्यवस्था ही समाप्त कर दी गयी है। अगर कोई बिना फास्टटैग के आता है तो उसे दोगुना टैक्स देना होगा।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned