कोटा से बारां 77 किमी, 70 किमी आरामदायक और 7 किमी पीड़ादायक

सपाट हाइवे के बाद गड्ढे और हिचकोले

By: mukesh gour

Updated: 17 Sep 2021, 09:04 PM IST

Kota, Kota, Rajasthan, India

बारां. कहने को तो कोटा से बारां का सफर आरामदायक ही कहा जाएगा। और यह आरामदायक है भी। कोटा से बारां शहर के प्रवेशद्वार तक तो 77 किमी के रास्ते का पता ही नहीं चलता कि ये कब गुजर गया।
अंतरराष्ट्रीय मापदंडों के आधार पर बना फोरलेन राष्ट्रीय राजमार्ग 27 जो गुजरात से शुरू होकर असम के सिलचर तक जाता है। यह कोटा को बारां से सुगमता से जोड़ता है। असली कहानी शुरू होती है तब, जब इस हाइवे से आप बारां शहर के लिए प्रवेश करते हैं। इसके बाद खस्ताहाल और घटिया सड़क का नमूना आंखों के सामने नुमाया हो जाता है। हाइवे से लेकर बारां शहर के चारमूर्ति चौराहे तक जाने वाली इस 7.5 किमी सड़क पर चलना किसी यातना के दौर से कम नहीं। इसे पार करने में 15 से 20 मिनट का समय लग जाता है। जो आमतौर पर 7 से 8 मिनट में पूरा हो जाना चाहिए। इस मार्ग पर असंख्य गड्ढे, यहां-वहां बेतरतीबी से बने गति अवरोधक, सड़क पर घूमते मवेशी, बदहाल यातायात इसे सबसे खराब सड़क बनाते हैं। दिनभर में इस मार्ग से होकर रोडवेज की कई बसें और मध्यप्रदेश, मांगरोल व झालावाड़ की ओर से बारां होकर भारी वाहन भी गुजरते हैं। ऐसे में यह सड़क हादसों भरी बन जाती है।
अगर नगर परिषद, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण इस पर मेहरबानी करे तो नई पेवर सड़क बनाकर लोगों को परेशानी से मुक्ति दिलाई जा सकती है। जिले में एक काबीना मंत्री और विधायक, सांसद के होने के बाद भी अब तक इसकी सुध नहीं ली गई है। हालांकि इस बारे में सार्वजनिक निर्माण विभाग का कहना है कि बारिश के बाद सड़क का पैचवर्क करा दिया जाएगा।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned