प्रभारी मंत्री ने मिशन शक्ति आभियान का शुभारंभ करते हुए 20 आंगनबाड़ी केंद्र का किया लोकार्पण

जनपद के डीआरडीए सभागार में शनिवार को वन व पर्यावरण मंत्री दारा सिंह चौहान एवं क्षेत्रीय सांसद उपेन्द्र रावव और विधायकों द्वारा मिशन शक्ति आभियान का शुभारंभ किया।

बाराबंकी. जनपद के डीआरडीए सभागार में शनिवार को वन व पर्यावरण मंत्री दारा सिंह चौहान एवं क्षेत्रीय सांसद उपेन्द्र रावव और विधायकों द्वारा मिशन शक्ति आभियान का शुभारंभ किया। साथ ही नव निर्मित 20 आंगनबाड़ी केंद्रो का लोकार्पण किया । इसके अलावा ब्लॉक बेनीकोडर की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता गीता पाल की कोरोना वैरियर्स के रूप में मौत हो गई थी। उनके परिवार जनो को कोरोना योद्धा अनुग्रह राशि के रूप में 50 लाख का स्वीकृती पत्र सौपा गया।

 

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व आशा बहू का योगदान

इस दौरान वन व जिले के प्रभारी मंत्री ने कहा कि केंद्र व प्रदेश की सरकार बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के साथ बेटी बढ़ाओ की योजना पर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि हर योजना को सफल बनाने में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व आशा बहू का योगदान रहा है। उन्हें मिलने वाले नये भवन में एक नया माहौल मिलेगा। उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार बेटियों की शिक्षा और स्वास्थ्य को लेकर बेहद संवेदनशील है। चाहे कन्या सुमंगला योजना हो या फिर मातृत्व वंदना योजना के माध्यम से उनका हक उन्हें दिलाया जा रहा हो। डीएम आदर्श सिंह ने कोरोना संक्रमण काल में आंगनबाड़ी एवं आशा कार्यकर्ताओ के कार्य की सराहना करते हुए अपनी बात रखी। सीएमओ डॉ. वीकेएस चौहान ने स्वास्थ्य विभाग की विभिन्न योजनाएं गिनाई। जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रकाश कुमार चौरसिया ने जानकारी देते हुए बताया कि बाल विकास परियोजना बनीकोडर की मृतक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता स्व. गीता पाल के परिवारीजन को 50 लाख रुपये की अनुग्रह राशि डीएम के प्रयास से स्वीकृति कर दी गई है। प्रभारी मंत्री दारा सिंह सिंह चौहान द्वारा परिवारीजन को स्वीकृति पत्र दिया गया।

 

इन्हें सौंपी गई जिम्मेदारी

जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि शासनादेश के क्रम में सीडीपीओ और सुपरवाइजर के माध्यम से 65 वर्ष से ज्यादा आयु की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाओं को चिह्नित किया गया। इनमें 200 आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और 103 सहायिकाओं को सेवानिवृत्त कर दिया गया है। वहीं 303 आंगनबाड़ी केंद्रों के रिक्त पदों की जिम्मेदारी आसपास के कार्यकर्ताओं को सौंपी दी गई है। जिले में 3052 आंगनबाड़ी केंद्रों पर लगभग 27 सौ सहायिका और 29 सौ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तैनात हैं। इस मौके पर विधायक सतीश चंद्र शर्मा, बैजनाथ रावत, शरद अवस्थी, जिलाध्यक्ष अवधेश श्रीवास्तव स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे।

 

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned