मुस्लिमों ने पेश की तहजीब की मिसाल, फूल बरसाकर किया कांवड़ियों का स्वागत

- फल खिलाकर लगाए बम भोले-जय श्रीराम के नारे

बाराबंकी. जनपद बाराबंकी में शहर के मुस्लिमों ने गंगा-जमुनी तहजीब की अनोखी मिसाल पेश की है। शिवरात्रि के मौके पर बाराबंकी के महादेवा मंदिर में जलाभिषेक के लिए जा रहे कांवड़ियों को मुस्लिमों ने फल खिलाए और पानी पिलाकर उनकी प्यास बुझाई। साथ ही कांवर लेकर जा रहे भोले भक्तों पर पुष्पवर्षा कर उनका स्वागत किया। साझा संस्कृति वाले शहर में तमाम मुस्लिमों ने कांवड़ियों की सेवा के बाद उनके साथ अपने दोनों हाथ उठाकर जय बम-बम भोले और जय श्रीराम के जयकारे भी लगा रहे थे। मुस्लिमों को इस तरह से भाव विभोर होते हुए देख शिव भक्त कांवड़िए उत्साहित दिखे और उन्हें आशीर्वाद भी दिया।

 

पेश की तहजीब की मिसाल

इस मौके पर कार्यक्रम में मौजूद सांसद उपेंद्र सिंह रावत, चैयरमैन रंजीत बहादुर श्रीवास्तव, सपा नेता अरविंद सिंह गोप और बसपा नेता पंकज गुप्ता पंकी ने कहा कि भारत की पहचान एकता है, यहां हर मजहब और जाति के लोग एक साथ मिलकर रहते हैं। हिंदू हो या मुस्लिम सभी के पूर्वज एक ही हैं। डीएम ने ने कहा कि कोई धर्म किसी से बैर रखना नहीं सिखाता है। हम चाहे किसी भी धर्म से संबंध रखते हों लेकिन हर धर्म की इज्जत करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि शिव भक्त कांवड़िए बहुत पुण्य का काम करते हैं। वह दूर-दूर से आकर महादेवा में जलाभिषेक करते हैं। ताकि भगवान उनकी मनोकामनाओं को पूरी कर सके।

 

मुस्लिमों के लिए सच्ची श्रद्धा

वहीं मुस्लिम समाजसेवी ने कहा कि शिव भक्तों की सेवा करना मुस्लिमों के लिए सच्ची श्रद्धा है। उन्होंने कहा कि कुछ तथाकथित लोग देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन वह अपने इरादों में सफल नहीं हाे पाएंगे। वहीं इस मौके पर डीएम डा. आदर्श सिंह, एसपी यमुना प्रसाद, एआरटीओ पंकज कुमार वर्मा, बसपा नेता कुंवर जामी समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

 

यह भी पढ़ें: SBI में नहीं है अकाउंट तो तुरंत खुलवा लें, बैंक अपने खाताधारकों को दे रहा 2 लाख रुपये का सीधा फायदा

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned