विदाई से ठीक पहले नवविवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में जलकर मौत

परिजनों की तहरीर पर पति, सास और ससुर सहित छह लोगों पर दहेज के लिए जलाकर मार डालने का केस दर्ज।

 

By:

Published: 11 Dec 2017, 05:39 PM IST

बाराबंकी. मां-बाप के बड़े अरमान होते हैं कि उसकी बेटी के लिए अच्छा घर परिवार मिले और शादी के बाद उसकी बेटी खुशहाल रहे और शायद यही वजह है कि मां-बाप अपनी बेटी के लिए कई जगह खोजबीन कर उसमें से एक वर चुनते हैं जो उसकी बेटी की जिंदगी को खुशी से भर दे, लेकिन जरा सोचिए क्या गुजरती है उस मां बाप के दिल पर जिसकी बेटी को शादी से एक हफ्ता बाद ही दहेज के लिए जलाकर मार दिया जाता है। एक तरफ तो बेटी की मौत के बाद मां-बाप के आंसू रुकने का नाम नहीं लेते लेकिन इन दहेज के लोभी भूखे भेडिय़ों के चेहरों पर जरा सी भी शिकन नहीं आती है। दहेज के लिए किसी की बेटी किसी की बहन की हत्या कर देना इसकी इजाजत ना तो हमारा कानून देता है और ना ही समाज।

अपनीं आखिरी सांस लेगी
दहेज के लोभी दानवों द्वारा शादी से एक हफ्ते बाद ठीक पहली विदाई की रात नवविवाहिता को जिंदा जला देने का मामला बाराबंकी में तहसील रामनगर स्थित रमुवापुर गांव में सामने आया है। जहां के निवासी धर्मेंद्र का विवाह एक हफ्ते पहले 3 दिसम्बर को अमेठी जिले के गौरीगंज थाना क्षेत्र के अंतर्गत अचलपुर गांव निवासी उमेश सिंह की पुत्री पिंकी (22) के साथ धूमधाम से हुआ था। अपनी सामथ्र्य के अनुसार उमेश सिंह ने शादी में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी थी। दोनों परिवार बहुत खुश थे। खुद पिंकी को भी इस बात का कोई अंदेशा नहीं था कि जिस ससुराल में वह अपना जीवन खुशहाल बनाने जा रही है जिसके आंगन में वह रोशनी बिखेरने जा रही है उसी आँगन में वह एक दिन अपनीं आखिरी सांस लेगी।
आज वही पिंकी कफन के सफेद चादर में लिपटी है
जिसने भी नवविवाहिता पिंकी की मौत की खबर सुनी वह दंग रह गया किसी को भी यह विश्वास नहीं हो रहा था कि जिस पिंकी को उन्होंने शादी के लाल जोड़े में एक हफ्ते पहले देखा था। आज वही पिंकी कफन के सफेद चादर में लिपटी है। घटना की सूचना पाकर एएसपी दिगम्बर कुशवाहा घटनास्थल पर पहुंचे और उन्होंने सभी तथ्यों की सघन जांच की और फिर उन्होंने परिजनों की तहरीर पर रामनगर थाना पुलिस को मृतका पिंकी के पति, सास, ससुर, जेठ, जेठानी और ननद के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए हैं। अपर पुलिस अधीक्षक दिगम्बर कुशवाहा के आदेश पर रामनगर पुलिस ने आरोपों के खिलाफ दहेज़ हत्या की धारा 498, 304 (बी) और 3/4 दहेज प्रथा में मुकदमा दर्ज कर मृतका के पति, सास व ससुर को हिरासत में ले लिया है।

Dharmendra
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned