नोटबंदी के फैसले से जनता परेशान, मोदी के खिलाफ परिवाद हुआ दाखिल!

  नोटबंदी के फैसले से जनता परेशान, मोदी के खिलाफ परिवाद हुआ दाखिल!
barabanki

नोट बंदी के बाद लोगों के पास अपना रुपया होने के बावजूद वे अपना काम नहीं कर पा रहे हैं।

बाराबंकी. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ बाराबंकी न्यायालय में गुरुवार को परिवाद दाखिल हुआ है। वरिष्ठ अधिवक्ता शिव कुमार शुक्ल और विजय प्रताप सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के बाद हुई जनहानि और जनता की परेशानी के लिए परिवाद दाखिल किया है।

परिवादी जिला बार एसोसिएशन बाराबंकी का पूर्व महामंत्री है। परिवादी ने पीएम मोदी पर आरोप लगाया है कि 8 नवंबर 2016 को मोदी ने 500 और 1000 के पुराने नोट को बंद कर दिया था। मोदी के इस फैसले से जनता को काफी परेशानी उठानी पड़ रही है। लोगों के पास अपना रुपया होने के बावजूद वे अपना इलाज, यात्रा, भोजन, विवाह, अंतिम संस्कार समेत अन्य काम नहीं कर पा रहे हैं। इसके अलावा पूरे देश में लगभग 100 से ज्यादा लोगों की बैंक की लाइन में खड़े-खड़े मौत हो गई है।



barabanki

परिवाद में आरोप लगाया है कि परिवादी का खाता देना बैंक में हैं। मोदी की नोटबंदी की वजह से वह अपना रुपया बैंक से नहीं निकाल पा रहा है। नोटबंदी के बाद से बैंक में कैश की उचित व्यवस्था नहीं की गई है। नियम के अनुसार अपने बैंक अकाउंट से हर हफ्ते 24 हजार रुपए निकाल सकते हैं लेकिन बैंकों में रुपया उपलब्ध नहीं कराया गया है। 

देखें वीडियो-

देखें वीडियो- 

परिवादी ने यह भी कहा कि मोदी के खिलाफ पुलिस कोतवाली नगर, जिला बाराबंकी में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज नहीं कर रही है। इसलिए कोर्ट से निवेदन है कि मोदी को तलब कर साक्ष्य व सबूत का परीक्षण कर उन्हें दंडित करें।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned