सीसीटीवी के बार-बार जिक्र ने खोल दी 17 लाख लूट की झूठी कहानी, आरोपी भेजे गए जेल

पुलिस ने इस मामले में निहाल सिंह और मुन्ना लाल चौहान को गिरफ्तार किया है। ये दोनों यूपी के आजमगढ़ के रहने वाले हैं।

By: नितिन श्रीवास्तव

Updated: 11 Aug 2020, 02:53 PM IST

Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

बाराबंकी. सत्रह लाख रुपए हजम करने के मामले पर से पर्दा हटाने का दावा पुलिस ने किया है। झूठी लूट की यह घटना किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं लगती। लूट की झूठी कहानी के आधार पर दो लोग हजम कर पाते उससे पहले ही पुलिस ने दूध का दूध और पानी का पानी कर दिया।

पुलिस ने इस मामले में निहाल सिंह और मुन्ना लाल चौहान को गिरफ्तार किया है। ये दोनों यूपी के आजमगढ़ के रहने वाले हैं। गोरखपुर की सिंह कंस्ट्रक्शन नामक कंपनी के लिए ये दोनों काम करते हैं। बीते 7 अगस्त को इन दोनों ने पुलिस को सूचना दी कि लखनऊ से गोरखपुर जाते समय एक स्कार्पियो गाड़ी से आए कुछ बदमाशों ने उनसे 17 लाख रुपए लूट लिए। पुलिस अधीक्षक ने तत्काल तीन टीमें गठित कर जांच शुरू कर दी।

पुलिस ने मौके का निरीक्षण करने के साथ उन जगहों के भी निरीक्षण किए जहां इन्हें पैसे दिए गए थे। इस जांच में पुलिस का ध्यान एक बात की ओर गया कि इन दोनों ने हर जगह सीसीटीवी कैमरे के सामने आकर पैसा लिया है। इसके बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों से अलग-अलग पूछताछ की तो उनके बयान भिन्न मिले। तब पुलिस ने दोनों के साथ थोड़ी सख्ती बरती तो मामला तुरंत साफ हो गया। रिपोर्ट लिखाने वाले मुन्ना लाल चौहान और निहाल सिंह ने स्वीकार किया कि उनके साथ कोई लूट की वारदात नहीं हुई है। पुलिस ने मुन्ना लाल और निहाल सिंह की निशानदेही पर 17 लाख रुपए उनकी स्कार्पियो से बरामद कर लिए।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned