दो लोगों को जारी हो गया एक ही आधार नंबर, 10 साल के बच्चे की उम्र 70 देखकर उड़े सभी के होश

(Aadhaar Card) आधार कार्ड में हुई इस गलती के बाद अब जन्मतिथि संशोधन में अभिभावकों को परेशान होना पड़ रहा है।

बाराबंकी. आधारकार्ड को बनवाने के बाद सिर्फ इसमें नाम और पते की गलतियों में परिवर्तन किया जा सकता है। लेकिन, आधार कार्ड का नम्बर नहीं बदला जा सकता। जबकि बाराबंकी में एक 10 साल के बच्चे की आधार कार्ड में उम्र 70 साल की दिख रही है। यह देख उसके परिजन परेशान हैं। यह ऐसा मामला है, जिसमें एक बच्चे का आधार कार्ड नम्बर दो लोगों को जारी कर दिया गया। इसके बाद बच्चे की उम्र आधार कार्ड में 70 साल दिखाई जा रही है। आधार कार्ड में हुई इस गलती के बाद अब जन्मतिथि संशोधन में अभिभावकों को परेशान होना पड़ रहा है।

2018 में बनवाया था आधार कार्ड

जानकारी के अनुसार बाराबंकी निवासी प्रसून मिश्रा ने अपने बच्चे का आधार कार्ड 2018 में बनवाया था। इस प्रक्रिया के बाद उसके आधार कार्ड की प्रोसेस पूरी तो हो गई, लेकिन उसकी हार्ड कॉपी उसके घर नहीं पहुंची। इसके बाद वह जब वह अपना आधारकार्ड प्रिन्ट करवाने जनसेवा केन्द्र पहुंचे तो वह हैरान रह गए। हैरान इसलिये, क्योंकि उनके बच्चे का आधार नम्बर किसी और को भी एलॉट हो चुका था। जबकि एक व्यक्ति का आधार नम्बर एक ही होता है। आधार में सब संशोधन तो हो सकता है, लेकिन आधार नम्बर संशोधित नहीं होता। वह एक व्यक्ति का एक ही बार जारी होता है और जीवन भर वही रहता है।

बच्चे की उम्र 70 साल

अपने बच्चे का आधार कार्ड प्रिन्ट कराने जनसेवा केन्द्र आये अधिवक्ता प्रसून मिश्रा ने बताया कि उनके बच्चे के आधारकार्ड का प्रिन्ट नहीं निकल रहा है। पता करने पर ज्ञात हुआ कि उनके बच्चे के आधारकार्ड के नम्बर को किसी और को भी एलॉट कर दिया गया है। अब बच्चे की उम्र आधारकार्ड में 70 वर्ष दर्शाई जा रही है। जिस कारण आगे उन्हें बच्चे के एडमिशन कराने, बैंक खाते को खुलवाने और जीवन बीमा आदि में परेशानी हो सकती है। वह समझ नहीं पा रहे हैं कि आखिर एक नम्बर दो लोगों को कैसे जारी कर दिया गया। आधार कार्ड में हुई इस लापरवाही पर सब हैरान हैं।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned