एसपी को देख कर कांपें पुलिस के हाथ, नहीं खोल पाए हथियार और नहीं बंधी बेल्ट, नाराज एसपी ने थाने के लगवाए चक्कर

पुलिकर्मियों के थाने के चक्कर लगाते हुए यह नजारा बाराबंकी जनपद की थाना नगर कोतवाली का है।

बाराबंकी. जनपद बाराबंकी में पंचायत चुनाव को लेकर जहां सभी विभाग अपनी तैयारी में जुटे हुए हैं, वहीं पुलिस ने भी अपनी टीम के कील कांटे दुरुस्त करना शुरू कर दिया है। मगर पहले ही निरीक्षण में पुलिस की तैयारियों की पोल खुल गयी। क्योंकि यहां पर तैनात पुलिसकर्मी न तो बेल्ट बांध पाए और एसपी को देखकर उनके हाथ ऐसे कांपे कि हथियारों से फिसलने लगे और वह नहीं खुले। यह सब देख कर एसपी की भौंहें तन गयी और पुलिसकर्मियों के चक्कर लगवा दिए।

एसपी ने लगवाए थाने के चक्कर

पुलिकर्मियों के थाने के चक्कर लगाते हुए यह नजारा बाराबंकी जनपद की थाना नगर कोतवाली का है। जहां जिले के पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद निरीक्षण करने पहुंचे थे। सबको यही लग रहा था कि हर बार की तरह रजिस्टर और हथियारों के रखरखाव को देखकर एसपी अपने निरीक्षण की ड्यूटी की इतिश्री कर लेंगे। मगर किसी को यह अंदाजा ही नहीं था कि एसपी पूरी तैयारियों की रिहर्सल कराने वाले हैं। एसपी ने दंगा नियंत्रण की किट जब पुलिसकर्मियों को पहनाई तो कई पुलिसकर्मियों के हाथों बेल्ट ही नहीं बंधी और जब हथियारों पर हाथ आजमाने की बात कही तो हथियार खुले ही नहीं। नाराज एसपी ने सजा के तौर पर पुलिसकर्मियों को डांट तो सुनाई ही, साथ ही थाने के चक्कर लगाने का फरमान भी सुना दिया। बेबस पुलिसकर्मी एसपी के आदेश पर दौड़ते दिखाई दिए।

एसपी ने दिये सख्त निर्देश

वहीं इस मौके पर बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने कहा कि नगर कोतवाली थाने का निरिक्षण किया गया है। जो कमियां थीं उसके बारे में उन्हें बताया गया है। आगामी पंचायत चुनाव, त्योहारों और किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा गया है। साथ ही सभी आपराधिक गतिविधियों में लिप्त लोगों का ब्योरा इकठ्ठा करने को कहा गया है। थाने में जो कमियां थीं, उस पर शीघ्र सुधार करने को भी कहा गया है।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned