टीबी रोगियों की हर तरह से मदद करेगा यह मोबाइल ऐप, घर बैठे सारी जानकारी भी कर सकेंगे ट्रैक

- TB Arogyasathi App: क्षय रोगियों के इलाज में मददगार बनेगा टीबी आरोग्य साथी एप

बाराबंकी. TB Arogyasathi App: टीबी मुक्त भारत अभियान में अब टीबी आरोग्य साथी एप काफी मददगार साबित होगा। इसके जरिए टीबी रोग के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त हो सकेगी। क्षय रोगी (TB patients) अपने इलाज से लेकर सरकार से मिलने वाली आर्थिक मदद की जानकारी को ट्रैक कर सकेंगे। केंद्र सरकार ने टीबी आरोग्य साथी एप जारी किया है । यह एक ऐसा प्लेटफार्म होगा, जहां टीबी से जुड़ी हर जानकारी उपलब्ध होगी। इसकी सहायता से जिस टीबी के मरीज का उपचार चल रहा होगा, वह यूजर आई डी की सहायता से लॉग इन करके अपना ट्रीटमेंट भी ट्रैक कर सकते हैं।

सारी जानकारी भी कर सकेंगे ट्रैक

जिला क्षय रोग अधिकारी डा.एके वर्मा का कहना है कि एप के माध्यम से टीबी परीक्षण और उपचार विवरण, विभिन्न प्रोत्साहन योजनाओं के तहत देय राशि का विवरण, स्वास्थ्य प्रदाता तक पहुंचने और उपचार या किसी भी जानकारी के लिए अनुरोध किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त टीबी से संबंधित समस्त जानकारी, टीबी जांच एवं उपचार की नजदीकी सुविधा, टीबी के जोखिम का आकलन करने के लिए स्क्रीनिग टूल, पोषण संबंधी सहायता एवं परामर्श प्राप्त किया जा सकता है। इससे इलाज भी आसान होगा।

टीबी आरोग्य साथी एप का ऐसे करें इस्तेमाल

जिला क्षय रोग अधिकारी ने बताया कि एप एंड्रायड और आईओएस दोनो प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है। अपने मोबाइल के प्ले स्टोर या एप स्टोर में जाकर टीबी आरोग्य साथी सर्च कीजिए, इंस्टॉल पर क्लिक कीजिए। एप इंस्टॉल करने के बाद ओपन कीजिए और रजिस्टर नाउ पर क्लिक कीजिए। एप लोकेशन, ब्लूटूथ समेत कुछ परमिशन के लिए कहेगा, सभी को एलाऊ कर दीजिए। अपना मोबाइल नंबर दर्ज कीजिए, नंबर पर ओटीपी आएगा जिसे दर्ज कर वेरिफिकेशन कीजिए। अब अपना नाम, उम्र, प्रोफेशन भरना होगा। इसके बाद एप मोबाइल पर एक्टिवेट हो जाएगा।

ऐप के जरिए मिलेंगी यह सुविधाएं

- टीबी संबधी सवाल पूछ सकते हैं।
- टीबी के लक्षण के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
- टीबी रोग के प्रभाव के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
- टीबी मरीजों के लिए सही पोषण के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
- टीबी मरीज अपना ट्रीटमेंट ट्रैक कर सकते हैं।
- अपने खाते में आने वाली राशि के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: 30 जून तक नहीं बनेंगे लर्निंग DL, 15 जून तक RTO ऑफिस में नहीं होंगे ये काम, जानें नया शेड्यूल

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned