UP Board Results 2017: इस बार भी जिला बाराबंकी रहेगा अव्वल, बढ़ी उम्मीद!

छात्रों का लंबा इंतजार आज आखिर खत्म होने जा रहा है। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के दसवीं और इंटरमीडिएट के रिजल्ट आज आ जाएंगे। उपरसुलटस णिच इन

बाराबंकी. छात्रों का लंबा इंतजार आज आखिर खत्म होने जा रहा है। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के दसवीं और इंटरमीडिएट के रिजल्ट आज आ जाएंगे। यूपी बोर्ड का रिजल्ट आने के बाद बोर्ड के लाखों छात्र-छात्राओं का भविष्य तय हो जाएगा। बात अगर करें यूपी के बाराबंकी जिला की तो आपको पात ही होगा कि यहां अफीम और मार्फीन तस्करी होता रही है। बाराबंकी जिला इसके लिए हमेशा बदनाम भी रहा है। लेकिन इसी बाराबंकी यूपी बोर्ड की परीक्षा में टॉप करने छात्रों ने इस जिले का हमेशा मान बढ़ाया है।


वीडियो देखें:




क्या इस बार भी बाराबंकी रहेगा अव्वल

यूपी बोर्ड के होनहार छात्रों ने हमेशा अपना नाम रोशन करके बाराबंकी जिले को भी अलग पहचान दिलाई है। पिछले साल हाई स्कूल की बोर्ड परीक्षा में बाराबंकी जिले से यूपी टापर का नाम नहीं था लेकिन लेकिन इंटरमीडिएट में बाराबंकी ने सारे रिकॉर्ड तोड़े थे। पहला, दूसरा और तीसरा स्थान पर जिले ने अपना कब्जा जमाया था। टाप करने वाली ये वही छात्राएं थीं जिन्होंने 2014 की हाईस्कूल परीक्षा में अव्वल स्थान प्राप्त किया। ये जिले के स्कूल महारानी लक्ष्मी बाई मेमोरियल इंटर कालेज की छात्राएं थीं। हमेशा की तरह इस बार भी देखने होगा कि क्या इस बार भी बाराबंकी जिले से यूपी बोर्ड के छात्र टाप करेंगे या फिर इस बार यूपी का कोई दूसरा जनपद प्रदेश में अपना नाम कमाएगा। 


इतने छात्र हुए शामिल

इस बार यूपी बोर्ड में कुल 54 लाख 66 हजार 531 छात्र-छात्राओं ने इंटरमीडिएट और हाईस्कूल की परीक्षा दी है। इसमें इंटरमीडिएट में छात्र-छात्राओं की कुल संख्या 24 लाख 51 हजार 474 और हाईस्कूल में छात्र-छात्राओं की कुल संख्या 30 लाख 15 हजार 57 थी। जबकि कुल 60 लाख 61 हजार 34 परीक्षार्थी पंजीकृत हुए थे। इनमें से 5 लाख 94 हजार 503 छात्रों ने परीक्षा छोड़ दी।


15 दिन में आ जाएगी मारक्शीट

हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के रिजल्ट जारी होने के 15 दिनों के भीतर अंकपत्र एवं प्रमाणपत्र संबंधित स्कूलों पर पहुंच जाएगा। आपको बता दें कि 
साल 2016 में 10वीं में कुल 87.66 फीसदी विद्यार्थी पास हुए थे। जिसमें लड़कियों ने 91.11 फीसदी के साथ परीक्षा में बाजी मारी थी, जबकि 84.22 फीसदी लड़के पास हुए थे। वहीं 12वीं में 87.99 विद्यार्थी पास हुए थे। इसमें 92.48 फीसदी लड़कियों ने तो 84.35 फीसदी लड़कों ने बाजी मारी। 12वीं में बाराबंकी की आरएलबी कॉलेज की छात्रा साक्षी वर्मा ने 98.20 फीसदी अंकों के साथ टॉप किया था। वहीं 10वीं में चंदौली रायबरेली की सौम्या पटेल ने 98.67 फीसदी अंकों के साथ टॉप किया था।


होगा ये बड़ा बदलाव

खबरों के मुताबिक योगी आदित्यनाथ सरकार के आदेश के बाद नए सत्र से उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की किताबों की जगह NCERT (एनसीईआरटी) की किताबें ले लेंगी। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अपर सचिव (प्रशासन) शिव लाल ने जानकारी देते हुए बताया कि उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा की ओर मिले निर्देश के मुताबिक पाठ्यक्रम में NCERT की किताबें शामिल की जाएंगी। उन्होंने कहा कि यूपी बोर्ड के पाठ्यक्रम में यह बदलाव नए सत्र से लागू होने वाले हैं। वहीं आपको बता दें कि अगर नया पाठ्यक्रम लागू हुआ तो साल 2019 में दसवीं और इंटरमीडिएट की परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों को नए पाठ्यक्रम के अनुसार परीक्षा देनी होगी।
Show More
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned